पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Wheat Will Be Procured From April 1, You Will Not Be Able To Get The Crop On The Due Date, So You Will Be Able To Change The Date.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खेती किसानी:1 अप्रैल से होगी गेहूं की खरीद, तय तारीख पर फसल नहीं ला पाए ताे तारीख बदल भी सकेंगे

अम्बालाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • किसान काे प्रति क्विंटल 1975 रुपए मिलेंगे, आढ़ती का ढाई रुपए कमीशन

जिले की मंडियाें में 1 अप्रैल से गेहूं की सरकारी खरीद शुरू हाे जाएगी। मंडियाें में प्रशासन ने खरीद के इंतजाम पूरे कर लिए हैं। खरीद काे लेकर पहले जैसे सिस्टम काे लागू किया जाएगा। किसान काे सरकारी रेट 1975 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से गेहूं के मिलेंगे।

गेहूं की खरीद के लिए अम्बाला सिटी, अम्बाला कैंट, बराड़ा, भरेड़ी कलां, कड़ासन, केसरी, मुलाना, नन्यौला, नारायणगढ़, साहा, सरदेहड़ी, शहजादपुर, तलरेहड़ी गुजरां और उगाला मंडियां स्थापित हैं, जहां पर विभिन्न एजेंसियों द्वारा गेहूं की खरीद का कार्य किया जाएगा। गेहूं में नमी की मात्रा 12 प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए, कट सहित 14 प्रतिशत से अधिक न हो।

खेत से सरकार तक ऐसा पहुंचेगा अनाज

किसानाें काे मेरी फसल मेरा ब्याैरा पाेर्टल पर रजिस्टर्ड किया जा चुका है। किसानाें काे रजिस्ट्रेशन के अनुसार ही मंडी में फसल लाने के लिए मैसेज भेजे जाएंगे। किसान कितनी फसल और किस दिन मंडी में लेकर आएगा, यह जानकारी मेरी फसल मेरा ब्याैरा पर पंजीकृत की गई है।

सबसे पहले किसान काे मैसेज मिलेगा कि उसे किस दिन गेहूं लेकर मंडी में पहुंचना है। किसान काे सबसे पहले मार्केट कमेटी के पास गेट पास कटवाना हाेगा। इसके बाद किसान अपनी फसल आढ़ती के पास लेकर जाएगा। यहां फसल की बाेली उसी दिन हाेगी। बाेली लगने के बाद आढ़ती पंखा लगाकर बैग में गेहूं भरकर तैयार करेगा। बैग में भरी गेहूं काे डीएफएससी व हैफेड एजेंसी ट्रक से उठाकर अपने स्टाेर में लेकर जाएगी। एजेंसी किसान काे 48 घंटे के अंदर सीधा उसके अकाउंट में पेमेंट करेगी। आढ़ती काे प्रति क्विंटल के हिसाब से 2.50 रुपए कमीशन मिलता है।

किसान अपनी सुविधा के अनुसार ला सकते हैं फसल

मेरी फसल मेरा ब्याैरा पाेर्टल पर किसान अपनी सभी जानकारी भरता है, जिसमें नाम, पता, माेबाइल नंबर, आधार नंबर, जमीन की जानकारी शामिल है। इस पाेर्टल के माध्यम से ही किसान काे उसके रजिस्टर्ड माेबाइल नंबर पर फसल मंडी में लेकर आने के लिए मैसेज आएगा। मान लीजिए कि किसान काे 8 अप्रैल काे मंडी में फसल लेकर आने का मैसेज मिलता है। मगर वह 8 अप्रैल काे फसल लेकर नहीं जा सकता या उसकी फसल तैयार नहीं है ताे वह अपनी सुविधा के अनुसार मंडी में फसल ले जाने के लिए पाेर्टल पर दिन व तारीख बदल सकता है। उसे पाेर्टल के लिंक पर रजिस्टर्ड माेबाइल नंबर से अपडेट करना हाेगा। माेबाइल पर ओटीपी मिलने के बाद उसे भरकर पाेर्टल पर जानकारी अपडेट हाे जाएगाी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें