पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • When The Vegetable Seller Created A Ruckus At Nape Gate, The Street Vendors Who Came In Support Said Naap Picks Up Their Goods And Sells Them.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नगर परिषद के गेट पर हंगामा:सब्जी विक्रेता ने नप गेट पर हंगामा किया तो समर्थन में आए रेहड़ी वाले बोले- नप उनका सामान उठा बेच देती है

अम्बाला9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला | हंगामा करने वाले सब्जी विक्रेता का सामान हिल रोड तक लेकर जाने के लिए छोड़ी गई जब्त रेहड़ी।

नगर परिषद व पुलिस टीम ने शनिवार सुबह हिल राेड पर सब्जी की फड़ी लगाने वाले भोरी की मंडी निवासी रमेश कुमार की छतरी और फट्टे जब्त कर लिए। इसके विराेध में नगर परिषद के गेट पर 5:30 घंटे तक हंगामा चला। नप व पुलिस की कार्रवाई के आधे घंटे बाद 11 बजे सब्जी विक्रेता रमेश सारी सब्जियां लेकर नप के गेट पर पहुंचा और गोभी, पालक, शलगम को बिखेरकर लेट गया और रोना शुरू कर दिया।

रेंट ब्रांच के अस्थाई क्लर्क सुरेंद्र राणा पर आरोप लगाया कि किसी के कहने पर तीसरी बार छत्तरी व फट्टे जब्त किए और दुकान की सब्जी फेंकी है। जब रोका तो मारपीट की गई। रमेश को उसके बेटे शंकर ने कई बार उठाने का प्रयास किया, लेकिन रमेश ने विरोध जारी रखा। रमेश ने रोते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन नप के साथ मिलकर गरीब आदमी को मेहनत करके सब्जी बेचने नहीं देना चाहती। बेटे से कहा कि पुलिस सब्जी बेचने में साथ नहीं देगी, बल्कि अफीम, गांजा, चरस और जुआ के काम में पूरा साथ देगी।

इसलिए तुम भी सब्जी बेचनी बंद कर दाे। रमेश के समर्थन में कई सब्जी विक्रेताओं ने नप-पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया। रमेश दोपहर 2:18 बजे नप की सरकारी जिप्सी और 2:20 बजे ट्रैक्टर-ट्रॉली के आगे भी लेटे। सरकारी गाड़ी से उतरे अस्थाई क्लर्क सुरेंद्र राणा से सब्जी वालों के साथ नोकझोंक भी हुई। क्लर्क ने पक्ष रखा कि सचिव राजेश कुमार के आदेश थे, इसलिए कार्रवाई की है। किसी से मारपीट नहीं की। उन्होंने सब्जी विक्रेताओं के सभी आरोपों को झूठा बताया। कार्यालय में होने के बावजूद नप ईओ विनोद नेहरा ने इस मामले में हस्तक्षेप नहीं किया। इनेलो नेता ओंकार सिंह और अस्थाई क्लर्क सुरेंद्र राणा अलग से जाकर उनसे मिले।

शनिवार शाम 4:15 बजे एसएचओ विजय कुमार नप कार्यालय में पहुंचे। 3 दिन पहले श्याम लाल यादव की जब्त रेहड़ी इसलिए छोड़ी गई ताकि हंगामा करने वाले रमेश की सब्जी को उठाकर हिल रोड तक पहुंचाया जा सके। रमेश ने बताया कि उन्हें आश्वासन दिया है कि हिल रोड पर जाकर सब्जी बेच सकते हाे। आगे से उन्हें तंग नहीं किया जाएगा। इसलिए विरोध बंद किया है।

सब्जी विक्रेता दीपक ने कहा कि कुछ माह पहले एक नई और दूसरी पुरानी रेहड़ी अस्थाई क्लर्क सुरेंद्र ने पकड़ी थी। परिषद में आकर रेहड़ियां वापस भी मांगी, लेकिन नहीं दी गई। कुछ माह के बाद उनकी दोनों रेहड़ियां बेच दी गई। एक रेहड़ी 8800 रुपए की बनवाई थी। कामधंधा बंद होने से फ्रूट के आढ़तियों को 60 हजार की उधारी देनी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें