राहत: सड़कों का मेंटीनेंस जल्द होगा शुरू:एक करोड़ रुपए से सिटी की हर काॅलोनी-मोहल्ले के गड्‌ढे भरेंगे

अम्बाला20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अम्बाला सिटी | मनमोहन नगर में नाले के ऊपर से टूटी सड़क। - Dainik Bhaskar
अम्बाला सिटी | मनमोहन नगर में नाले के ऊपर से टूटी सड़क।
  • लगातार शिकायतों पर निगम ने लिया संज्ञान, 20 नवंबर के बाद होगा वर्क अलॉट

शहर की हर काॅलोनी व पुराने शहर का हर मोहल्ला गड्ढा मुक्त हाे इसके लिए नगर निगम एक कराेड़ रुपए खर्चने जा रहा है। नगर निगम ने हर वार्ड की सड़कों में गड्ढे ठीक करने, मैनहोल और टूटे नालों की रिपेयर के लिए एक करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया है। 20 नवंबर के बाद हर वार्ड के लिए काम का वर्क आॅर्डर अलाॅट कर दिया जाएगा। शहर में 350 से ज्यादा काॅलोनियां व मोहल्ले आबाद हैं।

इनमें से 95 काॅलोनियों को 2013 में नियमित किया गया था तथा 44 काॅलोनियों को 2018 में नियमित किया गया था। निगम एरिया में ऐसी कोई काॅलोनी नहीं है, जहां सड़कों पर गड्ढे न हों। कुछ काॅलोनियों में गड्ढे इतने खतरनाक हैं कि रात को दोपहिया वाहन चालक चोटिल हो सकते हैं। इस बारे लोगों ने सीएम विंडो पर शिकायतें की और पार्षदों ने इन गड्ढों को भरने की आवाज उठाई। इसके बाद नगर निगम ने लोगों को राहत देने के लिए यह कदम उठाया है।

असल में सुबह व शाम को जब लोग सैर करते हैं तो उन्हें गड्ढों के कारण काफी दिक्कत आती है। अगर सुबह के समय स्ट्रीट लाइट बंद हो जाए तो ऐसा लगता है कि कहीं ठोकर खाकर गड्ढे में न गिर जाएं। इसलिए सैर करने वाले लोगों ने निगम में इसकी शिकायतें की। मगर जब शिकायतें सीएम विंडो तक पहुंची तो निगम ने इन गड्ढों को ठीक कराने का प्रोजेक्ट तैयार किया। इस प्रोजेक्ट में निगम ने गड्ढों के साथ-साथ नालों की रिपेयर भी शामिल की है, क्योंकि कुछ एरिया में नाले ऐसे हैं, जिनका पानी सड़कों या साथ लगते प्लाॅटों में घुस जाता है।

पार्षदों को अपने वार्ड के लिए ~5-5 लाख मिलेंगे
पहली बार हर वार्ड में सड़कों की मरम्मत व गड्ढों को भरने के अलावा अन्य कामों के लिए निगम ने पांच-पांच लाख का बजट रखा है। यह सारे काम पार्षदों की देखरेख में किए जाएंगे ताकि पार्षदों की शिकायतों का भी निवारण किया जा सके। वैसे अभी तक वार्डों में पार्षदों की शिकायतों के बाद सड़कों को ठीक करने के काम चल रहे हैं।
गड्ढों को भरना निगम का अच्छा कदम: टोनी
वार्ड पांच के पार्षद टोनी चौधरी कहते हैं कि वार्डों में गड्ढों को भरने का काम सराहनीय है। उन्होंने कहा कि हालांकि नगर निगम कमिश्नर ने उनके वार्ड में पहले से ही गड्ढों व नालों की रिपेयर के लिए निर्देश दिए हुए हैं, जिस पर काम चल रहा है।
सैर करने वालों को मिलेगी राहत: यतिन
वार्ड-13 के पार्षद यतिन बंसल कहते हैं कि सुबह जब लोग खासकर बुजुर्ग सैर करने के लिए निकलते हैं तो उन्हें गड्ढों के कारण काफी दिक्कत होती है। उन्हें गिरने का डर लगता है, लेकिन जब गड्ढे भर जाएंगे तो उन्हें इससे बड़ी राहत मिलेगी।

एक्शन मोड पर कमिश्नर: राजेश मेहता
वार्ड-4 के पार्षद राजेश मेहता कहते हैं कि नगर निगम मेयर और कमिश्नर शहर की समस्याओं को लेकर एक्शन मोड में हैं। जब भी पार्षदों के ग्रुप में कोई शिकायत डाली जाती है उस पर कमिश्नर तुरंत एक्शन लेते हैं। शहर में गड्ढे भरने से लोगों को काफी राहत मिलेगी।
^ हर वार्ड के लिए पांच लाख रुपए का टेंडर सड़कों की मरम्मत और नालों की मरम्मत के लिए टेंडर निकाला है। 18 नवंबर को टेंडर की अंतिम तिथि है। टेंडर खुलने के बाद वर्क आर्डर अलाट कर दिए जाएंगे।
दिनेश, म्युनिसिपल इंजीनियर, नगर निगम

खबरें और भी हैं...