पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रादौर:धान की सरकारी खरीद शुरू न होने से व्यापारी कम दामों में खरीद रहे फसल, किसानों को हो रहा नुकसान

रादौर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

अनाजमंडी में धान की सरकारी खरीद न होने से किसानों की धान की फसल को व्यापारी औने पौने दामों पर खरीद रहे हैं। धान की सरकारी खरीद शुरू न होने का फायदा व्यापारी जमकर उठा रहे हैं। कम दाम मिलने से किसानों को प्रति एकड़ हजारों रुपए का नुकसान हो रहा है। वहीं बहुत से किसान मंडी में धान की फसल के औने पौने दाम मिलने से निराश होकर अपनी फसल को वापिस अपने घर ले जा रहे हैं।

ऐसे किसान धान की सरकारी खरीद शुरू होने के बाद अपनी धान की फसल को न्यूनतम मूल्य पर बेचने को लेकर अपनी फसल को घर में या आढ़ती की दुकान पर स्टॉक लगा रहे हैं। धान की सरकारी खरीद 25 सितंबर से शुरू होने की संभावना है। ऐसे में तब तक किसानों को धान की फसल का न्यूनतम मूल्य मिलना संभव नहीं है। अब किसान सरकारी खरीद शुरू होने की बाट जोह रहे हैं। किसान नरेश, रामकुमार, प्रदीप, सुखबीर, रमेश, साहिल आदि ने बताया कि क्षेत्र में धान की काफी फसल पक चुकी है।

सरकार ने मोटे धान के 1888 रुपए प्रति एकड़ दाम निर्धारित किए हैं। लेकिन मंडी में किसानों को 1400 से 1500 रुपए प्रति क्विंटल तक ही दाम मिल रहे हैं। बिना सरकारी खरीद के व्यापारी किसानों को दोनों हाथों से लूट रहा है। किसानों ने बताया कि 1509 बारिक किस्म की धान का मूल्य पिछले वर्ष 2500 से 2700 रुपए प्रति क्विंटल तक था। लेकिन अब यह किस्म मंडी में 1600 से 1850 रुपए प्रति क्विंटल के बीच बिक रही है।

इस बारे अनाज मंडी रादौर के प्रधान संजय गुप्ता ने बताया कि मोटे धान के दाम कम मिलने से अधिकतर किसानों ने अपनी धान की फसल को बेचने की बजाय आढ़ती की दुकान पर कट्टों में स्टॉक लगा दिया है। जिससे सरकारी खरीद शुरू होने के बाद ही बेचा जाएगा। बहुत कम किसान ही कम दाम पर अपनी फसल बेच रहे हैं। उधर भारतीय किसान यूनियन की ओर से जिला प्रधान संजू गुंदयाना ने सरकार से मांग की कि सरकार 20 सितंबर से धान की सरकारी खरीद शुरू कर किसानों को राहत पहुंचाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें