सीएम मनोहर लाल ने कहा कि:पीर बुधु शाह के जन्म स्थान को सहेजने का प्रयास किया जाएगा

साढौरा12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुद्वारा साहिब में शीश नवाते सीएम मनाेहर लाल। - Dainik Bhaskar
गुरुद्वारा साहिब में शीश नवाते सीएम मनाेहर लाल।
  • चंडीगढ़ लौटते समय अचानक ही पीर बुधु शाह गुरुद्वारा पहुंचे सीएम

पीर बुधु शाह की महान कुर्बानी इतिहास के पन्नों में दर्ज है। साढौरा में उनके जन्म से जुड़े भवनों को सरकार द्वारा सिख संगतों के सहयोग से सहेजने का प्रयास किया जाएगा। सीएम मनोहर लाल ने पीर बुधु शाह गुरुद्वारा में माथा टेकने के बाद यह बात कही। आदिबद्री के दौरे से वापस चंडीगढ़ लौटते हुए सीएम अचानक ही पीर बुधु शाह गुरुद्वारा पहुंचे थे। उन्होंने गुरुद्वारा में शीश नवाने के बाद गुरु ग्रंथ साहिब जी की परिक्रमा की।

इसके बाद गुरुद्वारा कमेटी के प्रधान कुलविन्द्र सिंह चड्ढा ने सीएम को गुरुद्वारा भवन में लगे एतिहासिक चित्रों के दर्शन करवाए। सिख संगतों की मांग पर उन्होंने इस भवन के मूल रूप को सहेजने के लिए प्रशासन को प्रस्ताव बनाकर भेजने के निर्देश दिए। कुलविन्द्र सिंह चड्ढा ने बंदा सिंह बहादुर स्मारक चौक तथा पीर बुधु शाह स्मारक द्वार बनवाने के लिए सीएम का आभार प्रकट किया।

उन्होंने पीर बुधु शाह संग्रहालय बनाने के सीएम के वादे की याद दिलाई। सीएम ने कहा कि आज तो वह केवल आध्यात्मिक यात्रा पर आए हैं, लेकिन संग्रहालय का काम भी जल्दी शुरू करवाने का प्रयास किया जाएगा। इस मौके पर लोगों ने सीएचसी को 50 बेड का अस्पताल बनाने की घोषणा को जल्दी पूर्ण करने तथा यहां चिकित्सकों की कमी दूर करवाने की मांग की। गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा सीएम को पीर बुधु शाह जी का चित्र भेंट किया गया।

खबरें और भी हैं...