पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लोगों में रोष:7 लाख की लागत से बने स्मारक द्वार के पास अवैध कब्जे और गंदगी

साढौरा13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

तीन साल पहले तत्कालीन विधायक द्वारा दिए गए 7 लाख के फंड से निर्मित पीर बुधु शाह स्मारक की प्रशासन द्वारा अनदेखी किए जाने से यह द्वार अपने भव्य स्वरूप को खो रहा है। इससे कस्बा निवासियों में रोष है। पीर बुधु शाह गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान कुलविंद्र सिंह चड्ढा ने बताया कि इस द्वार का निर्माण बाईपास मार्ग पर डेहा बस्ती के पास किया गया है।

पीर बुधु शाह की यादगार में बना यह स्थल कस्बे का प्रमुख प्रवेश द्वार भी माना जाता है। लेकिन वर्तमान समय में यह भव्य द्वार प्रशासन की उपेक्षा के कारण अवैध कब्जों व गंदगी का शिकार हो रहा है।

इस द्वार के ठीक सामने झोपड़ियां बनाकर अवैध कब्जे किए जा रहे हैं। जिससे इस द्वार की खूबसूरती प्रभावित हो रही है। कस्बे के इस मुख्य प्रवेश द्वार के आसपास रहने वालों द्वारा यहां गंदगी फैलाए जाने से भी आने-जाने वालों को परेशानी होती है।

इस बारे में प्रशासन को अवगत करवाने के बावजूद ठोस कार्रवाई न किए जाने से लोगों में रोष है। सतनाम सिंह, लक्ष्मण सिंह खालसा व जसबीर सिंह चड्ढा ने बताया कि बार-बार मांग के बावजूद प्रशासन द्वारा इस द्वार के आसपास लाइटिंग की भी व्यवस्था नहीं की जा रही है। इस बारे में जल्दी ही बिलासपुर के एसडीएम से मांग की जाएगी।

खबरें और भी हैं...