पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा:कक्षा 9 से 12वीं के 30 हजार विद्यार्थियों को ई-लर्निंग के लिए मिलेंगे टेबलेट

यमुनानगर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एससीईआरटी पोर्टल पर दी गई विद्यार्थियों की संख्या के हिसाब से दिए जाएंगे टेबलेट

प्रदेश सरकार की ओर से कोविड 19 के कारण स्कूली बच्चों की छुटि्टयां की गई है। इस दौरान सभी स्कूलों में कक्षाएं ऑनलाइन सुचारू रूप से चल रही हैं। इस समय स्कूल स्टाफ भी बच्चों को कक्षावार विषयवार पढ़ाई करा रहे हैं। सरकार की ओर से कक्षा 9 से 12वीं तक प्रदेश में 8 लाख 6 हजार विद्यार्थियों को टेबलेट दिए जाने की घोषणा की गई है। एससीईआरटी पोर्टल पर दी गई विद्यार्थियों की संख्या के हिसाब से टेबलेट दिए जाने हैं। जिले में 30 हजार के करीब विद्यार्थी हैं जिनको सरकार की ओर से ई-लर्निंग के लिए टेबलेट मिलेंगे।

विद्यार्थियों को ई-लर्निंग के लिए टेबलेट दिए जाने की घोषणा कोविड में ऑनलाइन स्टडी के चलते गत वर्ष मुख्यमंत्री की ओर से की गई थी। जिले में अभी तक इस योजना के तहत किसी को कोई टेबलेट नहीं मिला है। इस सत्र में भी सरकार की ओर से विद्यार्थियों के लिए टेबलेट दिए जाने की बात कही गई है। यह उन विद्यार्थियों को दिए जाने हैं जिनके नाम पोर्टल पर पंजीकृत है।

इस समय प्रदेश के सभी विद्यार्थियों का डाटा ऑनलाइन किया गया है। मुख्यालय से ही अधिकारी देख लेते हैं कि किस जिले में कितने बच्चे पोर्टल पर पंजीकृत किए गए हैं। विभागीय अधिकारियों की माने तो इसमें भी विरोधाभास है। सरकार ने अगर बीते वर्ष पंजीकृत बच्चों की संख्या के हिसाब से आंकड़ा लिया तो इस साल पंजीकृत छात्रों को लाभ नहीं मिलेगा। इस बार छात्रों की संख्या भी पोर्टल पर ज्यादा है। इसे लेकर कुछ क्लियर नहीं किया गया है कि कौन से सत्र के आधार पर बच्चों की संख्या को ले रही है।

गत वर्ष के एनरोलमेंट के आधार पर देंगे

  • अधिकारियों के अनुसार शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों को ई लर्निंग के लिए टेबलेट देने के लिए गत वर्ष एमआईएस पोर्टल पर पंजीकृत विद्यार्थियों को प्राथमिकता दी है। कारण है कि वर्ष 2021 के लिए अभी एडमिशन चल रहे हैं। सभी बच्चे पोर्टल पर पंजीकृत भी नहीं हो पाए हैं।
  • 30 हजार दिए जाएंगे टेबलेट| बीते वर्ष के आंकड़े के अनुसार जिले के 30 हजार विद्यार्थियों को टेबलेट दिए जाएंगे। अध्यापक रमेश कुमार का कहना है कि इससे उन बच्चों को लाभ मिलेगा जिनके पास मोबाइल नहीं हैं। साथ ही सरकार को चाहिए कि टेबलेट वितरित का दायरा बढ़ाया जाए।
  • अपलोड होगा एससीईआरटी का सिलेबस| डीईओ नमिता कौशिक ने बताया कि दिए जाने वाले टेबलेट्स में एससीईआरटी का पाठ्यक्रम अपलोड होने के साथ ई बुक्स भी अपलोड होगी। उसके माध्यम से जूम एप पर भी ऑनलाइन पढ़ाई कर सकेंगे। टेबलेट में पूरा पाठ्यक्रम व एसाइनमेंट अपलोड कर के ही दिए जाने हैं।
खबरें और भी हैं...