पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

3 घंटे 10 रोड रहे जाम, आक्रोश:7 जगह पहले तय था, किसान 3 और जगह रोड पर बैठे

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यमुनानगर| नेशनल हाईवे पर जाम लगाते किसान। - Dainik Bhaskar
यमुनानगर| नेशनल हाईवे पर जाम लगाते किसान।

किसानों ने शनिवार को दाेपहर 12 से तीन बजे तक दस जगह राेड जाम किया। किसानों ने प्रशासन को 7 पॉइंट पर जाम लगाने की सूची दी थी, लेकिन तीन जगह और जाम लगाया गया। इससे पुलिस की ट्रैफिक डाइवर्जन प्लानिंग पर पानी फिर गया। नए जाम पॉइंट पर अतिरिक्त पुलिस लगानी पड़ी। वहीं, नए तीन पॉइंट में से दो तो ऐसे थे, जहां से ट्रैफिक को डाइवर्ट किया गया था, लेकिन वहां ट्रैफिक रुकने से लोग परेशान हुए। इस दौरान कहीं पर कोई विवाद नहीं हुआ। एसपी कमलदीप गोयल मौके पर रहे और सुरक्षा इंतजाम देखते रहे।

भाकियू जिलाध्यक्ष संजू गुंदियाना ने बताया कि उन्होंने जिन 7 पॉइंट पर प्रशासन को जाम लगाने की जानकारी दी थी, उनके संगठनों के लोगों ने वहीं जाम लगाया। जो 3 नए पॉइंट पर जाम लगाया गया, वह लोगों ने मर्जी से लगाया, क्योंकि लोगों में सरकार के खिलाफ गुस्सा है।

महिलाएं भी पहुंची जाम लगाने| किसानों के चक्का जाम में महिलाएं भी पहुंचीं थी। गांव जामपुर निवासी 70 साल की माम कौर ठीक से चल नहीं पाती। वे ट्रैक्टर-ट्रॉली पर चारपाई डालकर भंभौली के पास लगे जाम में पहुंचीं। इस दौरान वे तीन घंटे तक ट्रैक्टर-ट्रॉली में चारपाई पर ही बैठी रहीं। उनका कहना था कि उनके गांव से एक दर्जन महिलाएं किसानों के समर्थन में पहुंचीं।

किसानों ने नेशनल हाइवे पर गांव भंभौली के पास, स्टेट हाइवे पर औरंगाबाद के पास, छछरौली में तिकोना चौक पर, बिलासपुर, साढौरा, पाबनी कलां रोड और गुमथला में, नए बने बाईपास पर सुढल-सुढैल चौक, बहरामपुर गांव में और बिलासपुर के रणजीतपुर में जाम लगाया।

कोई अस्थि विसर्जन से लौट रहा था तो किसी को रिश्तेदार की मौत पर जाना था

कांगड़ा निवासी रवि कुमार ने बताया कि उनके यहां पर मौत हो गई थी। परिवार के लोग अस्थि विसर्जन के लिए हरिद्वार गए थे। वहां से लौट रहे थे। सुढल के पास किसानों ने रोक लिया। डेढ़ घंटे तक जाम में फंसे रहे। इसी तरह चंडीगढ़ निवासी जगतार सिंह ने बताया कि उन्हें सहारनपुर में रिश्तेदार की मौत पर जाना था। चंडीगढ़ से रोडवेज की बस में बैठे थे। सुढल चौक पर किसानों ने जाम लगा दिया। छोटे-छोटे बच्चे साथ थे। डेढ़ घंटे तक फंसे रहे।

तीन घंटे जाम के कारण 20 बसें बस स्टैंड से नहीं चलीं

किसानों के राेड जाम के दौरान रोडवेज सेवा तीन घंटे तक बंद रही। हालांकि जो बसें पहले से ऑन रूट थी, वे लिंक रोड से होकर जरूर पहुंची। तीन घंटे जाम होने से करीब 20 बसें यमुनानगर बस स्टैंड से नहीं चल पाई। सबसे ज्यादा दिक्कत दिल्ली, चंडीगढ़ रूट पर आई। तीन बजे के बाद रोडवेज सेवा बहाल हो गई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें