पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हरियाली की नीलामी:गोबिंदपुरी रोड पर करीब 40 साल पुराना हरा-भरा पेड़ होगा नीलाम

यमुनानगर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यमुनानगर| गोबिंदपुरी रोड पर पेड़, जिसे नीलाम करने का नोटिस। (ये फोटो उपलब्ध करते हुए प्रो. सैनी ने बताया कि पेड़ सीधा खड़ा है और साथ में नाले की खुदाई भी हो चुकी है।) - Dainik Bhaskar
यमुनानगर| गोबिंदपुरी रोड पर पेड़, जिसे नीलाम करने का नोटिस। (ये फोटो उपलब्ध करते हुए प्रो. सैनी ने बताया कि पेड़ सीधा खड़ा है और साथ में नाले की खुदाई भी हो चुकी है।)
  • प्रो. सैनी की कमिश्नर से अपील- पेड़ की ट्रीमिंग कर हादसे से बचाव को खोदी जगह में मिट्टी भरवाएं
  • एमई का तर्क- नाले की खुदाई में गिर सकता पहले से झुका पेड़, ग्रीनमैन बोले- सीधे खड़े पेड़ झुके हुए बताकर काट रहा नगर निगम

शहर में हरियाली (हरे-भरे पेड़) की नीलामी हो रही है, ऐसा खुद निगम अफसर कर रहे हैं। गोबिंदपुरी रोड चौड़ा करने के काम में 50 से अधिक हरे-भरे पेड़ पहले ही कट चुके हैं, ये आरोप एचईएस प्रेसिडेंट ग्रीनमैन प्रो. एसएल सैनी के हैं। वहीं, अब रोड पर एक और हरे-भरे पेड़ की नीलामी का निगम अफसरों ने टेंडर नोटिस कर दिया। ऐसा करने के पीछे अफसरों का तर्क है कि पेड़ झुका है, जो नाले की खुदाई होने पर गिरकर हादसे की वजह बन सकता है।

जबकि, प्रो. सैनी की मौके पर भेजी टीम ने जांच में अफसरों के तर्क झूठे पाए। सैनी की माने तो पेड़ कहीं से झुका नहीं है और साथ में नाले की खुदाई भी हो चुकी है। उनका आरोप है कि खुदाई में जड़े कटने पर हादसे की आंशका बढ़ी तो आनन-फानन में अफसर सीधे पेड़ झुका बताकर नीलाम कर रहे हैं। एचईएस की ओर से पत्र भेज कमिश्नर से अपील की गई कि पेड़ कटने से बचे व हादसे भी न हो, इसलिए ट्रीमिंग कर पेड़ के साथ खोदी जगह में मिट्टी भरवाएं।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश हैं कि पेड़ बीच में आए तो सड़कें घुमाकर बनाएं, इसलिए यहां पेड़ बचाने को नाला घुमाएं

एचईएस प्रेसिडेंट ग्रीनमैन प्रो. एसएल सैनी ने कहा कि एचईएस (हरियाणा एनवायरनमेंटल सोसाइटी) एक लाख से अधिक पौधे लगाकर उन्हें पेड़ बना चुकी है। किंतु कभी सड़क चौड़ी तो कभी नाले व अन्य निर्माण में एचईएस की पौधों को पेड़ बनाने में लगी सारी मेहनत मिट्टी हो रही है।

गोबिंदपुरी रोड चौड़ा करने के नाम पर पहले 50 हरे-भरे पेड़ कट चुके हैं। उनका आरोप है कि खुदाई में पेड़ की जड़े काट दी गईं, जिससे हादसे की आशंका देख अफसर पेड़ को झुका बताकर नीलाम कर रहे हैं। सैनी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट कह चुका है कि पेड़ बीच आएं तो सड़कें घुमाएं, इसलिए यहां पेड़ बचाने के लिए निगम अफसर भी नाला घुमाएं।

इधर... अस्थाई ऑटो स्टैंड पर अलसुबह 35 साल पुराना पेड़ काटने पहुंची टीम, ऑटो चालकों के विरोध पर बैरंग लौटी

वर्कशॉप रोड पर थॉपर कॉलोनी के पास अस्थाई ऑटो स्टैंड पर 35 साल पुराना पिलखन काटने टीम अलसुबह 3 बजे पहुंची। टीम को पेड़ के तने काटते देख यहां के ऑटो चालकों ने विरोध किया। ऑटो यूनियन के आह्वान पर काफी ऑटो चालक जुट गए। जिनका विरोध देख पेड़ काटने पहुंची टीम बैरंग लौट गई। ऑटो चालकों ने पोस्टर चिपकाने के साथ पेड़ के चारों ओर ऑटो खड़े कर दिए। यूनियन कार्यालय में बैठक कर पदाधिकारियों ने प्रधान आरके मंगा की अगुवाई में डीसी को ज्ञापन सौंपा। मंगा ने बताया कि पेड़ काटा जाना है, यह उन्हें पहले ही पता चल गया था।

इसके लिए मेयर व कमिश्नर से मिले थे, जहां उन्हें पेड़ न काटे जाने का आश्वासन मिला। बाद में उन्हें पता चला कि पेड़ काट नीलाम करने का काम निगम अलॉट कर चुका है। ऑटो स्टैंड के लिए यह शेड की तरह धूप, बारिश से बचाता है, इसलिए इसके कटने नहीं देंगे। अब भी पेड़ को कटा जाता है, तब ऑटो चालक हड़ताल पर चले जाएंगे। मौके पर उपप्रधान धर्मेंद्र, सचिव राजू, सहसचिव सुनील, सुरेश, सतनाम मौजूद रहे। उधर, ग्रीनमैन प्रो. सैनी ने बताया कि ये पेड़ एचईएस का लगाया है, वे भी ऑटो यूनियन के समर्थन में पेड़ काटे जाने का विरोध करेंगे।

कन्हैया साहिब चौक से मधु होटल के बीच एक ही पेड़ की नीलामी का टेंडर नोटिस किया है। ये पेड़ झुक चुका है। इसके साथ नाले की खुदाई का काम भी होना है, जिसमें ये गिरकर हादसे की वजह बन सकता है।
मुनेश्वर भारद्वाज, एमई, नगर निगम।

खबरें और भी हैं...