पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

नियुक्ति में रिश्वतोखोरी:ठेके पर योग वॉलंटियर्स की नियुक्ति के लिए 25 हजार रिश्वत मांगने का आरोप

यमुनानगर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
यमुनानगर। डीसी के नाम शिकायत दिखाते पुराने योग वॉलंटियर्स। - Dainik Bhaskar
यमुनानगर। डीसी के नाम शिकायत दिखाते पुराने योग वॉलंटियर्स।
  • मामले काे लेकर पुराने योग वॉलंटियर्स ने डीसी को दी शिकायत

आयुष विभाग के अंतर्गत ठेके पर योग वॉलंटियर्स की चल रही नियुक्ति सवालों के घेरे में हैं। आरोप है कि नियुक्ति के लिए ठेकेदार के लोग 25 हजार रुपए रिश्वत मांग रहे हैं। ऐसे आरोप पदों पर नियुक्ति के इच्छुक पुराने योग वॉलंटियर्स ने सोमवार को लगाए। इसकी जांच व कार्रवाई के लिए डीसी की गैरमौजूदगी में उनके नाम एडीसी को शिकायत दी।

इसमें आरोप लगाया कि उन्हें फोन कर जिला आयुर्वेदिक कार्यालय में प्रमाण पत्र जांच को बुलाया गया। जहां एक व्यक्ति ने कोरे कागज पर साइन कराए तो दूसरे ने हाथ पर लिखी 25 हजार रकम की ओर इशारा किया। सचिवालय पहुंचे नीरु, पूजा कपूर, विकास, अयोध्या व अन्य ने बताया कि उन्हें पहले खेल विभाग से कॉन्ट्रेक्ट पर योग वॉलंटियर्स रखा गया था।

ढाई साल पहले उनकी सेवाएं रिन्यू नहीं की गईं। ऐसे करीब 29 योग वॉलंटियर्स हैं, जो बेरोजगार हुए। अब आयुष विभाग के अंतर्गत दोबारा ठेकेदार के जरिए नियुक्त की जा रही है। इसमें उन जैसे पुराने योग वॉलंटियर्स को प्राथमिकता दी जा रही है, जिसके लिए यमुनानगर में ठेकेदार के व्यक्ति ने उन्हें फोन कर तीन सितंबर को जिला आयुर्वेदिक कार्यालय में प्रमाण पत्रों की जांच के लिए बुलाया। जहां एक व्यक्ति ने कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराए तो दूसरे ने हाथ पर लिखी 25 हजार रकम की ओर इशारा किया।

उनका आरोप है कि यह राशि नियुक्ति के नाम पर मांगी जा रही है। उन्होंने कहा कि विभाग के निर्देशानुसार पुराने योग वॉलंटियर्स को प्राथमिकता देते हुए ठेकेदार को पदों पर नियुक्ति करनी है, पर ऐसे रिश्वत देकर वे किसी सूरत में नहीं लगेंगे। क्योंकि खेल विभाग में ठेकेदार के जरिए रखे जा चुके पुराने सभी 29 योग वॉलंटियर्स नियुक्ति योग्यता रखते हैं, इसलिए उन्होंने रिश्वत मांगे जाने के विरोध में डीसी के नाम शिकायत दी है।

पुरानी वाॅलंटियर्स काे विभाग के कार्यालय में नहीं। उसके ऊपर छत पर बने कमरे में बुलाया गया होगा। ठेकेदार ने ही पुराने वालों को प्राथमिकता देते हुए योग वॉलंटियर्स रखने हैं। इसमें विभाग या यहां के किसी कर्मचारी का कोई हस्तक्षेप नहीं है। विभाग के निर्देशानुसार यह जरूर जांचा जाएगा कि पुराने वॉलंटियर्स को प्राथमिकता दी गई या नहीं और सभी योग्यता अनुसार रखे गए हैं या नहीं।
विनोद पुंडीर, आयुर्वेदिक अधिकारी, यमुनानगर।

खबरें और भी हैं...