पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना के कारण थी मंदी:7 माह बाद बाजारों में लौटी रौनक, दिवाली तक उम्मीद फिर से तेजी पकड़ेगा बाजार

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शाम सात बजे बंद होने वाला बाजार अब रात नौ बजे तक भी गुलजार रहता है

कोरोना संक्रमण के कारण बीच 7 माह बाद त्योहारी सीजन शुरु होने से बाजारों में फिर से रौनक लौटने लगी है। शाम 7 बजे बंद होने वाला बाजार अब रात 9 बजे तक भी गुलजार रहता है। इससे उम्मीद की जा रही है कि प्रतिदिन 5 करोड़ 15 लाख का बाजार 15 दिनों में 10 करोड़ तक पहुंच सकता है। दिवाली तक स्थिति में और सुधार हो जाएगा। ऐसा माना जा रहा है। अनलॉक 5 में केंद्र की अाेर से कई छूट दी गईं। शादियां होने लगी हैं। इससे भी काफी फर्क पड़ा है।

एक सप्ताह में कपड़ा, आभूषण, मिष्ठान व बर्तन बाजार में 18 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। व्यापारियों ने ई काॅमर्स कंपनियों को खरीद दर से कम मूल्य पर सामान बेचने व एफएसएसएआई के बेस्ट बिफोर कानून त्योहारों के सीजन बाद लागू करने की मांग की जा रही है। फिर भी कई दुकानदारों ने अपने स्तर पर खाद्य पदार्थाें के बाहर एक्सपायरी डेट लिखना शुरू कर दिया है। जिससे उपभोक्ता को जानकारी मिल सके कि जो लिया है वह सही है। कोरोना संक्रमण से जहां लोगों के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ा, वहीं लॉकडाउन के कारण नागरिकों के आर्थिक हालात भी खराब हुए।

इसका सीधा असर बाजार पर पड़ा। अप्रैल से मई तक लगभग 5 माह बाजार सुनसान रहे। लोग बेहद जरूरी वस्तुओं को ही खरीद के लिए बाजार में पहुंचे थे। प्रतिदिन 30 से 35 करोड़ का बाजार लॉकडाउन खुलने के बाद 5 से 7 करोड़ पर ही सिमट गया था, लेकिन अब त्योहारी सीजन व शादी समारोह शुरू होने से उम्मीद जताई जा रही है कि बाजारों में फिर से बहार आएगी। दीपावली से पहले बाजार फिर से अच्छी पकड़ बनाएगा।

कपड़ा, आभूषण और बर्तनाें की बाजार में लगभग 8 हजार दुकानें हैं। शादी समारोह शुरू होने लगे हैं। इसके लिए बाजारों में खरीदारी शुरू हो गई है। फिलहाल बाजारों में कपड़ा, आभूषण, बर्तनों की खरीदारी बढ़ी है। 20 प्रतिशत बढ़ोतरी बताई जा रही है। सितंबर तक कपड़े का बाजार प्रतिदिन करीब एक करोड़ रुपए का था। अब सवा करोड़ पार बताया जा रहा है। इसी तरह आभूषण का बाजार 80 लाख से 1 करोड़ के पार पहुंच गया है। बर्तन बाजार में भी तेजी बताई जा रही है। नवंबर में कपड़े का बाजार और तेजी पकड़ेगा ऐसी संभावना बनी है। इस माह में शादियां ज्यादा है।

खरीद दर से कम मूल्य पर ई काॅमर्स कंपनी न बेचे सामान

व्यापारी अजय बताते हैं कि केंद्र सरकार ने त्योहार से पहले अपने कर्मचारियों को ट्रेवल में खर्च होेने वाली राशि से खरीदारी करने की छूट प्रदान की है। वित्त मंत्री ये घोषणाएं सराहनीय हैं। ई काॅमर्स कंपनियों को खरीद दर से कम मूल्य पर सामान न बेचने दिया जाए ये मांग व्यापारियों ने सरकार से की है। तभी त्योहारी सीजन में बाजार जोर पकड़ेगा। इसका सख्ती से पालन कराया जाए। फेस्टिवल एडवांस व एलटीसी के बदले कैश में लोकल मार्केट में खरीदारी हो। तभी व्यापारियों को लाभ मिल सकता है। व्यापारी अनु, पंकज, सोहन लाल का कहना है नवरात्र से कुछ रौनक आई है। बाजार में चहल पहल दिख रही है। फिर भी अभी उम्मीद अनुसार मार्केट नहीं बन रही है। उम्मीद है कि दीपावली तक बदलाव होगा।

बचाव भी जरूरी

अब बाजार गुलजार हो हैं। भीड़ बढ़ रही है। ऐसे में कोरोना से बचाव जरूरी है। इसलिए जब भी बाजार जाए तो मास्क लगाकर जाए। केंद्र सरकार की गाइडलाइन का पालन किया जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- रचनात्मक तथा धार्मिक क्रियाकलापों के प्रति रुझान रहेगा। किसी मित्र की मुसीबत के समय में आप उसका सहयोग करेंगे, जिससे आपको आत्मिक खुशी प्राप्त होगी। चुनौतियों को स्वीकार करना आपके लिए उन्नति के...

और पढ़ें