पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परिवार पहचान पत्र:खाते से पीपीपी अटैच न होने से बीपीएल परिवारों को नहीं मिले सरसों तेल के पैसे

यमुनानगर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 50 प्रतिशत परिवाराें के खाते परिवार पहचान पत्र से अटैच नहीं

सरकारी राशन के डिपो पर सरसों के तेल की सप्लाई बंद होने के बाद सरकार की ओर से बीपीएल परिवारों को दी जाने वाली 250 रुपए की राशि पहले खाते वेरिफाई के चलते अटक गई थी। अब परिवार पहचान पत्र(पीपीपी) खाते से अटैच न होने से यह पैसे खाते में नहीं आ रहे हैं।

प्रदेश के 27,04,855 बीपीएल तो जिला यमुनानगर में 59,899 परिवार हैं। 50 प्रतिशत परिवारों ने अपने परिवार पहचान पर खाते से अटैच नहीं कराए, जिसके चलते इनकी 250 रुपए की राशि खाते में तीन माह से नहीं आ रही है। डीएफएससी कुशल बूरा का कहना है कि सरकार के निर्देश हैं कि परिवार पहचान पत्र अटैच कराए जाएं। इसके लिए विभाग जागरूक कर रहा है।

डिपो संचालकों को भी कहा है कि वे अपने स्तर पर भी उपभोक्ताओं को बताएं कि परिवार पहचान पत्र खाते से अटैच करवाएं। सरसों के दाम बढ़ने के बाद तेल के रेट भी एकाएक बढ़ गए थे। प्रति लीटर तेल की कीमत 180 रुपए तक पहुंच गई थी। डिपो पर तेल 20 रुपए लीटर की दर से दिया जा रहा था।

इसे देखते हुए सरकार की ओर से प्रदेश के सभी डिपो पर सरसो के तेल की सप्लाई रोक दी थी। इसकी एवज में 250 परिवार के खाते में डालने की घोषणा की थी। मई से मिलने वाले ये पैसे 50 प्रतिशत के खातों में ही आ पाए हैं। कई बीपीएल परिवार के लोगों का कहना है कि उन्हें किसी ने बताया नहीं कि खाते से परिवार पहचान पत्र जोड़ना जरूरी है।

किसी ने नहीं बताया कि पीपीपी जरूरी
बीपीएल परिवार से साजिदा, मोहन कुमार, मनोज ने बताया कि उनके परिवार पहचान पत्र बने हैं। उन्हें किसी ने बताया नहीं कि खाते से परिवार पहचान पत्र जोड़ना जरूरी है। वह पैसे के लिए डिपो के चक्कर लगा रहे हैं। उन्हें संचालकों ने भी नहीं बताया कि खाते से परिवार पहचान पत्र को जोड़ना है।

अगर बताया जाता है तो पहले ही परिवार पहचान पत्र खाते से अटैच करा लेते। इस कार्य को ऑनलाइन भी कराया जा सकता है। डिपो एसोसिएशन के प्रधान गजेंद्र राणा का कहना है कि सरसों के तेल के पैसे उन परिवारों के ही नहीं आ रहे हैं जिनके खाते से परिवार पहचान पत्र अटैच नहीं हो पाए हैं। उनके एरिया में भी काफी लोग ऐसे हैं, जिनके खाते से परिवार पहचान पत्र नहीं जुड़े हैं।

खबरें और भी हैं...