धोखाधड़ी का मामला:वकील के मुंशी पर 1.32 लाख की धाेखाधड़ी का केस

यमुनानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सेक्टर-17 थाना पुलिस ने वकील के मुंशी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। आरोप है कि आरोपी ने एक व्यक्ति के प्लाॅट की रजिस्ट्री कराने के लिए और अष्टाम निकलवाने के लिए 1.32 लाख रुपए ले लिए। लेकिन काम नहीं कराया, जिसके बाद शिकायत पुलिस को दी। जगाधरी वर्कशॉप की रामनगर कॉलोनी निवासी सुनील कुमार ने पुलिस को शिकायत दी थी कि उसने जून 2020 में एक प्लाॅट खरीदा था।

उसका बयाना लिखवाने के लिए वह कोर्ट परिसर में गया था। वहां एक वकील के चेंबर में उसे जरनैल सिंह मिला। उसने कहा कि वह मुंशी है और उसने कहा कि उसको डीसी ने रजिस्ट्री लिखने और कराने का वसीका नवीस का लाइसेंस दिया हुआ है। उसने उसकी बातों पर विश्वास कर लिया। 17 जुलाई 2020 को आरोपी को उन्होंने रजिस्ट्री कराने का खर्च और अष्टाम ड्यूटी के 1.32 लाख रुपए दे दिए थे।

लेकिन आरोपी ने न तो रजिस्ट्री मार्क कराई और न ही अष्टाम निकवाए। रजिस्ट्री का समय पास आने पर उसे किसी दूसरे के माध्यम से प्लाट की रजिस्ट्री करानी पड़ी। उसने आरोपी ने अपने पैसे मांगे, लेकिन उसने पैसे नहीं दिए। वहीं उससे जब डीसी का दिया हुआ लाइसेंस दिखाने को कहा तो वह नहीं दिखा पाया। आराेपी ने उसे धमकी देना शुरू कर दिया। इस शिकायत पर सेक्टर-17 थाना पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

खबरें और भी हैं...