परीक्षा शुरू:सीबीएसई: 10वीं की फर्स्ट टर्म की परीक्षा में पूछे सवालों को टफ बता रहे विद्यार्थी

यमुनानगर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • परीक्षा के लिए समय भी कम दिया जा रहा, विद्यार्थियों की मांग-अनुकंपा के आधार पर अंक दे बोर्ड

सीबीएसई की ओर से 10वीं कक्षा की फ़र्स्ट टर्म की परीक्षा शुरू हो गई है। परीक्षा में पूछे गए सवालों को विद्यार्थी मुश्किल बता रहे हैं। विद्यार्थियों का कहना है कि कोरोना काल के चलते काफी दिन पढ़ाई ऑनलाइन रही है। स्कूल खुलने के कुछ दिन बाद परीक्षा ली जा रही है। बोर्ड से विद्यार्थियों ने परीक्षा में ग्रेस मार्क यानी अनुकंपा के आधार पर अंक देने की मांग की है। विद्यार्थी आर्यन, अर्व, सुशांत ने बताया कि उन्होंने परीक्षा की तैयारी अच्छे से की थी। उम्मीद थी कि अच्छे अंक से परीक्षा पास होगी।

दो दिसंबर साइंस की परीक्षा हुई थी। जब प्रश्न पत्र सामने आया तो सवालों को देख कर समझ ही नहीं आया पूछा क्या जा रहा है। यही परेशानी शनिवार को हुई गणित की परीक्षा के दौरान हुई। 90 मिनट की हो रही परीक्षाओं में समझने का समय भी कम दिया गया है। पूछे गए सवाल आउट ऑफ सिलेबस नहीं है, लेकिन पाठ्यक्रम से घूमा कर प्रश्नों को शामिल किया गया है। बोर्ड की ओर से पहली बार दो टर्म में परीक्षा ली जा रही है। सिलेबस 50 प्रतिशत को शामिल किया गया है।

फिर भी प्रश्न पत्र इस तरह तैयार किए गए हैं कि समझ नहीं आ रहा है। इस बारे में स्कूल टीचर्स को भी नहीं पता है।  उन्होंने इस बारे बोर्ड में मेल करने की बात कही है। बोर्ड की ओर से पिछले साल परीक्षा नहीं ली गई थी। कोरोना काल के चलते बिना परीक्षा के विद्यार्थियों को पास कर दिया गया था।

दो साल के बाद बोर्ड की ओर से दो टर्म में परीक्षा आयोजित करने की प्लानिंग बनाई गई है। अभी टर्म वन की परीक्षा चल रही है। निजी स्कूल के वाइस प्रिंसिपल राकेश कुमार का कहना है कि सीबीएसई की ओर से इन दिनों 10वीं कक्षा की फ़र्स्ट टर्म की परीक्षा ली जा रही है। उनके पास भी कुछ बच्चे आए थे। बोर्ड की ओर से प्रश्न पत्र सेटल किए गए हैं। विद्यार्थी इन्हें टफ बता रहे हैं। ग्रेस मार्क की मांग विद्यार्थी बोर्ड से कर रहे हैं। इसे लेकर बोर्ड को स्कूल अपने स्तर पर केवल मेल कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं...