पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जिले का पहला केस:कोरोना नहीं हुआ फिर भी गांव ललहाड़ी की महिला को ब्लैक फंगस, कई दिन सिर दर्द रहा फिर आंख बंद हुई

यमुनानगर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रविवार को कोरोना के जिले में 63 नए केस आए। वहीं रविवार को 94 लोग कोरोना से ठीक हुए। अब तक 23245 लोग ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 96 प्रतिशत को पार कर चुका है। विभाग के अनुसार अब तक कोरोना से 383 लोगों की मौत हो चुकी है। रविवार को चार की कोरोना से विभाग ने मौत मानी। - Dainik Bhaskar
रविवार को कोरोना के जिले में 63 नए केस आए। वहीं रविवार को 94 लोग कोरोना से ठीक हुए। अब तक 23245 लोग ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 96 प्रतिशत को पार कर चुका है। विभाग के अनुसार अब तक कोरोना से 383 लोगों की मौत हो चुकी है। रविवार को चार की कोरोना से विभाग ने मौत मानी।
  • कोरोना से तेज गति से बढ़ रहा फंगस, अब तक 13 केस मिल चुके

ब्लैक फंगस तेजी से बढ़ रहा है। जिन्हें कोरोना नहीं हुआ है, वे भी ब्लैक फंगस की चपेट में आ रहे हैं। गांव ललहाड़ी निवासी महिला को सिविल अस्पताल से करनाल कल्पना मेडिकल कॉलेज में रेफर किया गया। क्योंकि जांच में उन्हें ब्लैक फंगस की पुष्टि हुई है। जबकि महिला कोरोना संक्रमित नहीं हुई। महिला का कहना है कि उसे शुगर है। कई दिन से उनके सिर में दर्द था। दवा लेती रही, लेकिन दर्द ठीक नहीं हुआ। अब कई दिन से आंख में दिक्कत आने लगी।

धीरे-धीरे आंख बंद होती गई। अब आंख पूरी तरह से बंद हो गई है। सिविल अस्पताल के डॉक्टरों ने टेस्ट किए और सीटी स्कैन कराया। रिपोर्ट के बाद उन्हें यहां से रेफर किया गया। कोरोना संक्रमित न होने के बाद भी फंगस होने का यमुनानगर में पहला मामला सामने आया है। हालांकि अब तक फंगस के 13 केस जिले में आ चुके हैं। लगातार केस बढ़ रहे हैं। जिले में पहला केस 19 मई को मिला था। 16 दिन में 13 केस आ चुके हैं। हालांकि यह आंकड़ा सरकारी है। ब्लैक फंगस के इससे ज्यादा केस हो सकते हैं।

कोरोना से तेज रफ्तार से बढ़ रहा ब्लैक फंगस| पिछले साल 11 अप्रैल को जिले में कोरोना का पहला केस आया था। 13 केस होने में 44 दिन लगे थे। 20 केस 57 दिन में आए थे। लेकिन फंगस के 17 दिन में ही 13 केस आ गए हैं। इस तरह से कोरोना से ज्यादा तेज रफ्तार से फंगस बढ़ रहा है। चिंता की बात यह है कि जिन लोगों को कोरोना हुआ भी नहीं, उन्हें भी फंगस चपेट में ले रहा है। इसके साथ ही सरकारी स्तर पर न तो इलाज है और न ही पर्याप्त इंजेक्शन।

रविवार को कोरोना के जिले में 63 नए केस आए। वहीं रविवार को 94 लोग कोरोना से ठीक हुए। अब तक 23245 लोग ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 96 प्रतिशत को पार कर चुका है। विभाग के अनुसार अब तक कोरोना से 383 लोगों की मौत हो चुकी है। रविवार को चार की कोरोना से विभाग ने मौत मानी।

खबरें और भी हैं...