पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Ambala
  • Yamunanagar
  • Do Not See The Poisonous Water Going To Yamuna From Ditch Drain, So XEN Bale In Summer, One Has To Walk Half A Kilometer Through The Forest, The Minister Decided To Change

डिच ड्रेन:डिच ड्रेन से यमुना में जा रहा जहरीला पानी मंत्री जी न देख लें, इसलिए एक्सईएन बाेले- गर्मी में जंगल के रास्ते आधा किलोमीटर पैदल चलना पड़ेगा, मंत्री ने बदला जाने का फैसला

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हकीकत : डिच ड्रेन के 50 मीटर पास तक जाती है गाड़ी, परवालो एसटीपी पर पहुंचे मंत्री ने जब यमुना में जा रहे गंदे पानी पर अधिकारियों से जवाब मांगा तो अधिकारी एक-दूसरे पर डालने लगे जिम्मेदारी

यमुनानगर में यमुना नहर और नदी को दूषित होने से बचाने के लिए 79 एमएलडी की क्षमता वाले सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट चल रहे हैं। लेकिन इसमें 54 एमएलडी पानी ही आ रहा। बाकी पानी बिना ट्रीट हुए यमुना में जा रहा है। जैसे ही यह बात केंद्रीय शक्ति व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने सुनी तो उन्होंने अधिकारियों की क्लास लगाई। डांट लगाते हुए जवाब मांगा। 

इस पर पब्लिक हेल्थ विभाग के अधिकारी नगर निगम के अधिकारियों पर बात डालते नजर आए तो निगम के अधिकारी पब्लिक हेल्थ पर। वहीं बीच में फंसे सिंचाई विभाग के अधिकारियों को भी मंत्री की डांट सहनी पड़ी। बाद में मंत्री ने इस मामले पर डीसी की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाने और हर माह मीटिंग कर मिनट्स उनके पास भेजने के निर्देश दिए। मंत्री रतनलाल कटारिया नमामि गंगे योजना की टीम के साथ हथनी कुंड बैराज से दौरा करते हुए यमुनानगर पहुंचे थे। परवालो एसटीपी पर जब अधिकारी उन्हें गुमराह करने लगे तो उन्होंने उनकी क्लास लगाई। कई जगह पर वे यमुना नहर और नदी की हालत देखकर गुस्से में आए। हालांकि उन्होंने कहा कि अब वह दिन दूर नहीं कि जब यमुना नदी में 12 माह स्वच्छ पानी बहेगा। उन्होंने अधिकारियों को कहा कि यमुना नदी और नहर में एक बूंद भी गंदे पानी की न जाए। 

यमुना में जो नाले-नालियां सीधी गिर रही हैं, उन्हें बंद करें। इस दौरान पब्लिक हेल्थ विभाग के अधिकारी ने डिच ड्रेन से हर घंटे हजारों लीटर गंदे पानी के यमुना में जाने की सच्चाई मंत्री को दिखाने से पहले आधा किलोमीटर जंगली रास्ते से पैदल जाने का डर दिखा दिया। इससे मंत्री वहां पर नहीं जा सके। सच माने तो डिच ड्रेन के पास एक श्मशान घाट है। वहां तो गाड़ी जाती है। उससे करीब 50 मीटर दूरी पर ही डिच ड्रेन हैबैराज से दो से तीन किलोमीटर दूर बनाया जाएगा डैम|केंद्रीय शक्ति व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने कहा कि नमामि गंगे योजना के तहत 325 से ज्यादा परियोजनाएं ली गई हैं।

जिनमें से 125 परियोजनाएं पूरी हो गई है। उन्होंने कहा कि यमुना का उद्गम स्थल यमुनोत्री है और हरियाणा में इसका नियंत्रण हथनी कुंड बैराज से है। राज्य सरकार द्वारा हथनी कुण्ड बैराज से ऊपर एक बड़ा बांध बनाने का प्रस्ताव है। पहाड़ी क्षेत्रों में लखवाड़, केसाऊ व रेणुका बांध बनाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं ताकि यमुना नदी का ई-फ्लो हमेशा बना रहे। 

मेटल नगरी के तेजाबी पानी के लिए दो प्लानिंगः यमुना नहर में जगाधरी की मेटल फैक्टरियों का तेजाबी पानी जा रहा है। हालांकि कुछ फैक्टरी मालिकों ने ट्रीटमेंट प्लांट लगवाया हुआ है, लेकिन ज्यादा फैक्टरियां ऐसे ही चल रही। इस पर मंत्री रतनलाल कटारिया ने अधिकारियों की क्लास लगाई। बाद में दो प्लानिंग बनी। इसके लिए या तो कॉमन एंफिलिएंट ट्रीटमेंट प्लांट (सीईटीपी) लगाया जाएगा। इसके लिए 10 और 20 एमएलडी के सीईटीपी की प्लानिंग चल रही है। वहीं दूसरा सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में फैक्टरियों के पानी को ट्रीट किया जा सके। इसे लेकर आईआईटी रूड़की से शुक्रवार को एक्सपर्ट की टीम आएगी। 

जोकि फैक्टरियों से निकलने वाले गंदे पानी की जांच करेगी और यह बताएगी कि इस पानी को सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट में ट्रीट किया जा सकता है या नहीं। अधिकारियों की माने तो जगाधरी और यमुनानगर की इंडस्ट्री से करीब 18 एमएलडी गंदा पानी निकलता है। बिना ट्रीट हुआ पानी यमुना में डेढ़ से दो एमएलडी जाता है। 

एक्सईएन बोले-मंत्री से डिच ड्रेन के लिए तो आधा किलोमीटर पैदल चलना पड़ेगा| कटारिया जम्मू कॉलोनी स्थित सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट पहुंचे। यहां से आगे उन्हें डिच ड्रेन देखने जाना था। इससे पहले ही अधिकारी डिच ड्रेन का दौरा कर चुके थे और वहां के हालात देखकर अधिकारियों को लगा कि अगर मंत्री यहां पर आए तो बदतर हालत देखकर डांट लग सकती है। जैसे ही मंत्री रतनलाल कटारिया ट्रीटमेंट प्लांट से आगे चलने के लिए कहने लगे तो तभी पब्लिक हेल्थ विभाग के एक्सईएन सुमित कुमार ने कहा कि डिच ड्रेन देखने के लिए आधा किलोमीटर पैदल चलना पड़ेगा। क्योंकि वहां तक गाड़ी नहीं जा सकती। इस पर मंत्री जी ने देखा कि गर्मी के मौसम में आधा किलोमीटर चलना आसान नहीं होगा। इस पर मंत्री आगे नहीं गए।  

मंत्री ने दौरे के बाद डीसी ऑफिस में ली मीटिंग

यमुना नदी, नहर और एसटीपी का दौरा करने के बाद मंत्री रतन लाल कटारिया ने जिला सचिवालय के काॅन्फ्रेंस हाॅल में यमुना नहर व यमुना नदी को पूर्ण रूप से हमेशा निर्मल रखने के लिए संबंधित विभाग के उच्च अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल, यमुनानगर के विधायक घनश्याम दास अरोड़ा, नगर निगम यमुनानगर-जगाधरी के मेयर मदन चौहान, नमामि गंगे योजना के कार्यकारी निदेशक डीपी माथूरिया, डीसी मुकुल कुमार, नगर निगम के आयुक्त धर्मवीर, जगाधरी के एसडीएम दर्शन कुमार, रादौर की एसडीएम पूजा चांवरिया, नगराधीश भारत भूषण कौशिक, जनस्वास्थ्य एवं जलापूर्ति विभाग के मुख्य अभियंता  एमएल राणा, कार्यकारी अभियंता पारिख गर्ग व सुमित गर्ग,  सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता हरिदेव कांबाेज, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के आरओ निर्मल कश्यप, उपमंडल अधिकारी कुलदीप सिंह, नमामि गंगे के डॉ. प्रवीण कुमार व केंद्रीय मंत्री के निजी सचिव राजेश सपरा माैजूद रहे।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें