सम्राट मिहिर भोज गुरुकुल विद्यापीठ का शिलान्यास:शिक्षा मंत्री और सांसद ने गुरुकुल के लिए सरकारी घोषणा की, सीएम बोले- एक-एक लाख रुपए अपने खाते से भी दें, खुद 2 लाख देंगे

यमुनानगर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गुरुकुल विद्यापीठ के शिलान्यास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने एसपी को स्टेज पर बुलाकर बातचीत की। - Dainik Bhaskar
गुरुकुल विद्यापीठ के शिलान्यास कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने एसपी को स्टेज पर बुलाकर बातचीत की।

सीएम मनोहर लाल जगाधरी में सम्राट मिहिर भोज गुरुकुल विद्यापीठ के शिलान्यास समारोह में पहुंचे। मिहिर भोज चौक के पास गुरुकुल की बिल्डिंग के लिए प्रस्तावित जगह पर सीएम और शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने हवन में आहुति डाली और बिल्डिंग की नींव रखकर शुभारंभ किया। यहां पर संस्था की ओर से करीब 20 बीघा जमीन पर विद्यापीठ बनाया जाना है। इस पर 20 से 25 करोड़ रुपए खर्च आएगा। यहां सीएम ने कहा वे 1983 में गुरुकुल शिक्षण संस्थान देवधर के संरक्षक ओम प्रकाश गांधी से मिले थे और उनके आदर्शों का उनके जीवन में प्रभाव है।

उन्होंने गुरुकुल शिक्षण संस्थान के लिए एक करोड़ रुपए की मैचिंग ग्रांट, 51 लाख रुपए की सरकारी सहायता और 2 लाख रुपए व्यक्तिगत खाते से देने की घोषणा की। वहीं, शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने 31 लाख रुपए और सांसद रतन लाल कटारिया ने 11 लाख रुपए देने की घोषणा की। सीएम ने उन्हें अपने व्यक्तिगत खाते से भी एक-एक लाख रुपए देने को कहा। वहीं, हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के चेयरमैन भोपाल खदरी ने अपना एक माह का वेतन देने की घोषणा की। विधायक घनश्याम दास अरोड़ा ने 1 लाख रुपए, फरीदाबाद के विधायक राजेश नागर ने 2 लाख 11 हजार रुपए समेत अन्य लोगों ने भी दान दिया। इस दौरान शिक्षा मंत्री कंवरपाल ने पहले लोग गुरुकुल में अपने बच्चों का एडमिशन नहीं कराते थे। लेकिन अब सिफारिशें कराते हैं।

हमें कई साल से सीएलयू नहीं मिला था, इसलिए नहीं बना पाए गुरुकुल: ओम प्रकाश गांधी
गुरुकुल शिक्षण संस्थान देवधर के संरक्षक ओम प्रकाश गांधी ने कहा कि उन्होंने पुराने समय में देवधर में लड़कियों को शिक्षित करने के लिए संस्थान खोला था। तब उस एरिया किसी भी तरह का विकास कार्य नहीं था। सड़कों पर बारिश में तालाब की तरह पानी भर जाता था। उनका कहना है कि कई साल पहले जगाधरी में जमीन तो ले ली थी, लेकिन सरकार से सीएलयू नहीं मिल पाया था।

इसलिए 15 साल से ज्यादा से यह मामला लटका हुआ था। भाजपा सरकार में उन्हें सीएलयू मिला और रास्ते को लेकर जो दिक्कत थी वह भी दूर हुई। मौके पर उपाध्यक्ष ठाकुर सिंह गंदापुरा, प्रधान एडवोकेट रघुबीर सिंह, पूर्व विधायक एवं जजपा जिला अध्यक्ष अर्जुन सिंह, पूर्व विधायक बलवंत सिंह, ईश्वर पलाका, मेयर मदन चौहान, डिप्टी मेयर रानी कालड़ा, हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष राम निवास गर्ग, हरियाणा समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्षा रोजी मलिक आनंद, भाजपा नेता बंतो कटारिया, भाजपा के जिलाध्यक्ष राजेश सपरा, चेयरमैन रामेश्वर चौहान समेत अन्य मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...