चार हत्याओं के जिम्मेदार कबाड़ी को जमानत:यमुनानगर में नवीन के गोदाम में आग से पिता और तीन बच्चों की हुई थी मौत

यमुनानगर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यमुनानगर में कबाड़ गोदाम मालिक को कोर्ट लेकर जाती पुलिस। - Dainik Bhaskar
यमुनानगर में कबाड़ गोदाम मालिक को कोर्ट लेकर जाती पुलिस।

हरियाणा के यमुनानगर में कबाड़ के गोदाम में आग से चार मौतों के जिम्मेदार ठहराए गए नवीन को पुलिस ने रात को गिरफ्तार किया। शुक्रवार दोपहर उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां सुनवाई के बाद उसे जमानत मिल गई। पीड़ित परिवारों में रोष है कि पुलिस ने नवीन पर सामान्य धाराएं लगाई, जिससे उसको आसानी से जमानत मिल गई।

यमुनानगर सिटी सेंटर रोड पर कबाड़ी नवीन के गोदाम में आग से उपर क्वार्टरों में रह रहे निजामुद्दीन और इसके तीन बच्चों बेटी फिजा, बेटे चांद व रेहान की जलने से मौत हो गई थी। उसकी पत्नी नसीमा अभी गंभीर हालत में अस्पातल में दाखिल है। पुलिस ने गोदाम मालिक नवीन को पूछताछ के बाद रात को गिरफ्तार कर लिया था। उस पर गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज है। शुक्रवार को उसे कोर्ट से जमानत मिल गई। पुलिस की जांच जारी है।

हादसे में बाल बाल बचे लोगों का आरोप

आग से यहां 17 मजदूरों को बचा लिया गया था। अब वे खुलकर गोदाम मालिक नवीन के खिलाफ खड़े हो गए हैं। उनका कहना है कि नवीन से कई बार कहा था कि गोदाम में ज्वलनशील सामान न रखें। बार-बार कहने के बावजूद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया। लोगों का कहना है कि गैर कानूनी तरीके से यह गोदाम चल रहा था।

जमानत मिलने पर गुस्सा

लोगों में इस बात का गुस्सा है कि पुलिस किसी न किसी स्तर पर नवीन को बचाने की कोशिश कर रही है। लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पहले नवीन को गिरफ्तार करने में देरी की और बाद में उस पर इतनी सामान्य धाराएं लगाई कि तुरंत ही जमानत मिल गई।

मुआवजा दिलाएं

पीड़ित मजदूरों का कहना है कि आरोपी नवीन पर हत्या के साथ अन्य लोगों की जिंदगी खतरे में डालने का मामला भी दर्ज हो। प्रभावित मजदूरों ने बताया कि इस आगजनी में उनका सारा सामान जलकर खाक हो गया है। उनके पास खाने के लिए कुछ भी नहीं है। उनके कपड़े भी आग में जल गए हैं। उन्हें नवीन से मुआवजा दिलवाएं।