निगम अफसर नित नए प्रयोग कर रहे:स्वच्छता व स्वच्छ हरियाणा एप की शिकायतों के लिए 2 जोन में सिटी बांट बनी 2 टीमें, 12 घंटे में करेंगी निपटान

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 में शहर की रैंकिंग पिछड़ने के बाद से नगर निगम अफसर नित नए प्रयोग कर रहे हैं। साथ ही बीते सर्वेक्षण में रहीं कमियों में सुधार की जुगत में लगे हैं। इन्हीं में स्वच्छता एप व स्वच्छ हरियाणा एप पर आनी वाली सफाई से संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए भी सेनिटेशन ब्रांच को अलर्ट कर दिया है। ब्रांच अफसराें को कमिश्नर से स्पष्ट निर्देश जारी कर दिए गए हैं कि एप पर आने वाली समस्याओं का 12 घंटे के भीतर समाधान हो।

इस काम के लिए सेनिटेशन ब्रांच अफसरों ने सिटी को दो जोन में बांटा और उन पर काम के लिए दो टीमें बनाई हैं। बता दें कि जोन-1 में एसआई प्रदीप दहिया के नेतृत्व में टीम में मानचंद्र, रामपाल, राजिंद्र कुमार, मनीष कुमार, राहुल कुमार शामिल किए गए। जोन-2 में एएसआई फूलकुमार के नेतृत्व में बनी टीम में राजा, कुलदीप, गौर, रिंपी पाल व मोहन शामिल किए हैं। दोनों टीमें एप पर आने वाली सफाई संबंधित हर शिकायत का 12 घंटे में समाधान करेगी।

एप के बारे कर रहे जागरूक
स्वच्छ भारत मिशन शहरी के सीटीएल मंगलेश कुमार ने बताया कि स्वच्छता व स्वच्छ हरियाणा एप के बारे में लोगों को जागरूक किया जा रहा है। इसके जगह-जगह होर्डिंग लगाए हैं वहीं डोर-टू-डोर जाकर सक्षम कर्मी लोगों को एप के बारे में बता रहे हैं। उनके मोबाइलों पर एप इंस्टॉल कर प्रक्रिया समझा रहे हैं।

इस तरह काम करती हैं दोनों एप
स्वच्छता एप व स्वच्छ हरियाणा एप पर लोग गंदगी की फोटो लेकर लाेकेशन सहित अपलोड करते हैं जहां से सेनिटेशन ब्रांच के संबंधित अफसर व कर्मचारियों तक शिकायत पहुंचती है। इन शिकायतों के समाधान के लिए 12 घंटे का समय निर्धारित कर दिया है।

स्वच्छता सर्वेक्षण-2022 में शहर को अच्छी रैंकिंग दिलाने के लिए सेनिटेशन ब्रांच समेत अन्य अफसरों को कड़े निर्देश हैं। इसी में दोनों एप पर सफाई संबंधित समस्याओं के समाधान के लिए दो टीमें बनी हैं, जिन्हें एप पर आने वाली शिकायतों का 12 घंटे में समाधान करना होगा।-अजय सिंह तोमर, कमिश्नर, नगर निगम।

खबरें और भी हैं...