एसपी ने ली मीटिंग:कमलदीप गाेयल बोले - नशा प्रभावित एरिया में बेहतर काम कर रही है पुलिस

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नशा मुक्ति मुहिम को लेकर एसपी कमलदीप गोयल ने मीटिंग ली। यहां कई लोग पहुंचे, जो नशा छोड़ना चाहते हैं। उन्हें टीम अस्पताल लेकर गई और उनका इलाज शुरू कराया। एसपी ने कहा कि इस मुहिम में जुड़ी उनकी टीम और समाज नशा रोगियों को बुरी नजर से नहीं देख रही। अगर जाने अनजाने उनसे कोई अपराध भी हो गया तो पुलिस उन्हें माफ करने के लिए तैयार है। बस नशा रोगी ठीक रहने चाहिए।

अब पुलिस का उद्देश्य है कि वे अपने परिवारों के बीच ठीक रहें। जो लोग डॉक्टर के निगरानी में हैं, उनके मुताबिक अपनी दिनचर्या को अंजाम दे।  पुरानी संगत को हमेशा के लिए अलविदा कह दें। यदि कहीं दिक्कत है तो सिविल अस्पताल के ड्रग डी-एडिक्शन वार्ड में दाखिल हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा जिन लोगों की इच्छाशक्ति मजबूत है, वे बोर्डिंग कैंप में जरूर जाएं।

वहां परिवारिक माहौल में उन्हें नशा छोड़ने के लिए प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सही राह का प्रयास सही दिशा में चल रहा है। एनजीओ का साथ लगातार मिल रहा है। नशा प्रभावित एरिया में भी पुलिस बेहतर काम कर रही है। अभी तक उनके सर्वे में 100 नशा रोगियों की पहचान की जा चुकी है, जिनका इलाज जल्द शुरू किया जाएगा।

हमीदा एरिया की बात करें तो यहां करीब 500 नशा करने वाले हैं। इन सभी को भी मुख्यधारा में लाने का निर्णय लिया है। एसपी ने बताया कि अब तक ड्रग डी एडिक्शन हेल्पलाइन पर 262 कॉल आ चुकी हैं। 192 नशा रोगियों का इलाज चल रहा है। अम्बाला रोड स्थित पुलिस लाइन के कैंप में 10 युवा हिस्सा ले रहे हैं। दो का इलाज अस्पताल में चल रहा है।

खबरें और भी हैं...