पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

20 को 8 घंटे का मेगा ब्लॉक:लखनऊ-चंडीगढ़ ट्रेन सहारनपुर तक आकर लौटेंगी, जयानगर-अमृतसर मुरादाबाद से वाया दिल्ली-पानीपत से अम्बाला पहुंचेंगी

यमुनानगर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मालगाड़ियों के बन रहे अलग ट्रैक के रास्ते आए मुस्तफाबाद स्टेशन समीप सवारी गाड़ियों के अप-डाउन ट्रैक, इसलिए सवारी गाड़ियों के बनाने पड़े नए ट्रैक

अम्बाला-सहारनपुर के बीच चल रहे इस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (मालगाड़ियों के लिए अलग रेल ट्रैक) प्राेजेक्ट के बीच एक के बाद एक नई चुनौती सामने आ रही है क्योंकि मालगाड़ियों के अलग ट्रैक के रास्ते नदी, नहर, आरओबी समेत कई फाटक, पुलिया व अन्य कंस्ट्रक्शन आ रहे हैं।

इनके हल निकालने में लगे डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के अफसरों के समक्ष एक और चुनौती है, क्योंकि मुस्तफाबाद स्टेशन समीप जहां मालगाड़ियों का ट्रैक निर्माण होना है, वहां पहले से सवारी गाड़ियों के अप-डाउन ट्रैक हैं। ऐसे में मालगाड़ियों के ट्रैक से पहले दो किमी तक सवारी गाड़ियों के अलग ट्रैक बनाने पड़े हैं।

अब इन नए ट्रैक से सवारी गाड़ियों के पुराने ट्रैक की कट एंड कनेक्टिविटी का काम चल रहा है। हालांकि 8 जुलाई को डाउन लाइन पर यह काम पूरा हो चुका है पर तब ट्रेनें प्रभावित नहीं थी जबकि, अब 20 जुलाई को अप लाइन पर काम के चलते सुबह 8.50 से शाम 4.52 बजे तक 8 घंटे के मेगा ब्लॉक में तीन ट्रेनें प्रभावित रहेंगी।

इस दिन लखनऊ-चंडीगढ़ ट्रेन सहारनपुर तक आएगी और यहीं से बनकर वापस लौटेंगी, जबकि जयनगर-अमृतसर गाड़ी मुरादाबाद से डायवर्ट होकर अम्बाला कैंट वाया दिल्ली-पानीपत स्टेशनों से पहुंचेगी।

यात्रियों की बढ़ेगी दिक्कत| 20 जुलाई को जिन स्टेशनों पर ये ट्रेनें नहीं आएगी, वहां ट्रेन के रूट पर पड़ने शहरों में जाने को यात्रियों को बस या अन्य साधन तलाशने पड़ेंगे।

अगले माह डब्ल्यूजेसी पर लगेगा पुल का काम, बीच आया कुष्ठ आश्रम होगा शिफ्ट| जमना गली फाटक के पास डब्ल्यूजेसी (पश्चिमी यमुना नहर) पर सवारी गाड़ियों के निकलने के लिए दो पुल हैं। अब कुरुक्षेत्र-सहारनपुर हाईवे पर बने पुल के पास मालगाड़ियों के अलग ट्रैक के लिए पुल बनेगा।

डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के अम्बाला से चीफ जनरल मैनेजर पंकज गुप्ता ने बताया कि अगले माह से डब्ल्यूजेसी (पश्चिमी यमुना नहर) पर 103 मीटर लंबा पुल का काम लगेगा। इसके लिए पुल का डिजाइन तैयार है।

यहां भी डब्ल्यूजेसी किनारे कुष्ठ आश्रम ट्रैक के रास्ते आ रहा था, जिसकी शिफ्टिंग के लिए शादीपुर रोड पर जमीन लेकर कंस्ट्रक्शन पूरा कर लिया है। यूपी बॉर्डर पर यमुना नदी पर पुल का काम 50 फीसदी पूरा है, जहां अब जलस्तर कम होने पर आगे काम लगाएंगे।

मेगा ब्लॉक के समय तीन ट्रेनें, दो के रूट छोटे व एक को किया डायवर्ट

  • जयानगर से अमृतसर (04673) ट्रेन यमुनानगर जगाधरी स्टेशन पर सुबह 10.26 बजे पर पहुंचती है, पर 20 जुलाई को मुरादाबाद से डायवर्ट होकर दिल्ली, पानीपत स्टेशनों से होकर अम्बाला कैंट पहुंचेगी। यानी ट्रेन कांठ, नजिबाबाद जंक्शन, लक्सर जंक्शन, रुड़की, सहारनपुर व यमुनानगर-जगाधरी नहीं आएगी।
  • लखनऊ चंडीगढ़ (04673) ट्रेन यमुनानगर-जगाधरी स्टेशन पर दोपहर 1.06 बजे व वर्कशॉप स्टेशन पर 1.14 पर पहुंचती है, पर 20 जुलाई को यह सहारनपुर तक ही आएगी। यानी यमुनानगर-जगाधरी, वर्कशॉप व अम्बाला कैंट और चंडीगढ़ नहीं जाएगी।
  • चंडीगढ़-लखनऊ (05012) ट्रेन यमुनानगर-जगाधरी स्टेशन पर शाम 6.52 बजे व वर्कशॉप स्टेशन पर 6.42 पर आती है, पर 20 जुलाई को यह लखनऊ के लिए सहारनपुर से ही बनकर चलेगी। यानी यमुनानगर-जगाधरी, वर्कशॉप, अम्बाला कैंट व चंडीगढ़ से नहीं मिलेगी।
खबरें और भी हैं...