पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मीटिंग दूसरी बार भी स्थगित:वर्चुअल हाउस मीटिंग रद्द करने को जुटे विपक्ष-सत्तापक्ष के पार्षद, मेयर ने दिए स्थगित के निर्देश

यमुनानगर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मीटिंग रद्द करने को लेकर कमिश्नर के नाम मांगपत्र दिखाते विपक्ष के पार्षद। - Dainik Bhaskar
मीटिंग रद्द करने को लेकर कमिश्नर के नाम मांगपत्र दिखाते विपक्ष के पार्षद।
  • 215 दिन के अंतराल पर सोमवार (आज) की नगर निगम हाउस की 5वीं मीटिंग दूसरी बार स्थगित

215 दिन के अंतराल पर सोमवार (आज) की नगर निगम हाउस की 5वीं मीटिंग दूसरी बार भी स्थगित करनी पड़ गई। हालांकि नगर निगम स्तर पर मीटिंग वर्चुअल तरीके से कराने की तैयारी थी, पर 24 घंटे पहले मीटिंग रद्द की मांग पर विपक्ष व सत्तापक्ष के पार्षद एकजुट हुए। रविवार को कमिश्नर के नाम मीटिंग रद्द के मांगपत्र पर इनेलो-कांग्रेस के सभी सात व भाजपा के सात पार्षदों ने स्टांप समेत हस्ताक्षर किए।

रविवार शाम भाजपा के सात पार्षद मेयर व सी. डिप्टी मेयर प्रवीन शर्मा से मिले। तब मेयर मदन ने कमिश्नर धर्मवीर से फोन पर बात कर मीटिंग रद्द करने के निर्देश दिए।साथ ही जल्द निगम ऑफिस में मीटिंग कराने का आश्वासन दिया। बतादें कि नगर निगम की चौथी हाउस मीटिंग तीन नवंबर-2020 को हुई थी।

इसके बाद 27 अप्रैल-2021 को प्रस्तावित पांचवीं मीटिंग कोरोना संक्रमण बढ़ते मामले देख ऐन मौके पर 24 घंटे पहले स्थगित कर दी गई। जबकि तब एजेंडा तैयार होकर पार्षदों के पास पहुंच चुका था। अब मीटिंग सात जून (आज) को वर्चुअल तरीके से कराने की तैयारी थी, तब भी 24 घंटे पहले मीटिंग रद करने की मांग को लेकर रविवार को विपक्ष व सत्तापक्ष के पार्षद एक होते दिखे।

इसके लिए कमिश्नर के नाम लिखे पत्र में विपक्ष से कांग्रेस समर्थित वार्ड-3 से हरमीन कोहली, वार्ड-4 से देवेंद्र, वार्ड-5 से विनय कांबोज व वार्ड-13 से निर्मल चौहान और इनेलो समर्थित वार्ड-17 से वीना शर्मा, वार्ड-8 से विनोद मरवाह, वार्ड-16 से रिया के साइन हैं। जबकि सत्तापक्ष में भाजपा से सात पार्षदों के स्टांप व साइन हैं।

लॉकडाउन खुलने पर मीटिंगः पार्षदों ने मीटिंग रद्द करने की मांग के पीछे इसका वर्चुअल तरीके से होना बताया है। स्पष्ट किया कि वर्चुअल मीटिंग का उन्हें अनुभव नहीं। उनका सवाल है कि हर माह होने वाली मीटिंग में 6 से 7 माह लग रहे हैं, तब इस बार मीटिंग वर्चुअल तरीके से कराने की जल्दी क्यों है? उनकी मांग है कि लॉकडाउन खुलने का इंतजार कर अफसरों व पार्षदों में आमने-सामने की मीटिंग हो, क्योंकि मीटिंग में पार्षदों को अपने मुद्दे पर बहस करनी होती है, जो फोन पर वर्चुअल मीटिंग में नहीं हो सकती।

शाम काे मेयर मेयर से मिले पार्षद: भाजपा पार्षद संजय राणा, रामआसरे भारद्वाज, संजीव कुमार, अभिषेक शर्मा, पार्षद कुसुमलता के प्रतिनिधि ने मेयर से मांग की कि अब कोरोना संक्रमण नियंत्रण में है, इसलिए नगर निगम हाउस मीटिंग वर्चुअल न कर सभी पार्षदों व निगम अफसरों की मौजूदगी में निगम कार्यालय के सभागार में हो। ताकि सभी पार्षद अपनी बात खुलकर रख सकें। मौके पर भाजपा जिलाध्यक्ष राजेश सपरा, हरियाणा व्यापारी कल्याण बोर्ड चेयरमैन रामनिवास गर्ग मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...