पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निजी स्कूलों पर मनमानी फीस के आरोप:डीईओ के पत्र को गलत बताकर प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन एडीसी से मिली

यमुनानगर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आंदाेलनरत पेरेंट्स बोले-अधिकारी दबाव में आए तो उतरेंगे सड़कों पर
  • पेरेंट्स के स्प्रिंग फील्ड स्कूल के बाहर तीन दिन प्रदर्शन करने के बाद डीईओ ने निजी स्कूलों को दिए थे वार्षिक चार्ज न लेने के निर्देश

निजी स्कूलों पर मनमानी फीस के आरोप लगाकर जहां अभिभावक सड़कों पर प्राइवेट स्कूलों के खिलाफ उतरे हुए हैं।वहीं, अब प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन अपने बचाव में उतर आई है। सेक्टर 18 स्थित स्प्रिंग फील्ड स्कूल के बाहर तीन दिन प्रदर्शन करने के बाद डीईओ ने निजी स्कूलों को वार्षिक चार्ज न लेने के निर्देश जारी कर पत्र जारी किया था।

इसे लेकर मंगलवार को यमुनानगर डिस्ट्रिक्ट पब्लिक स्कूल एसोसिएशन ने एडीसी रंजीत कौर से मुलाकात की। एडीसी ने तुरंत डीईओ को बुलाया। दोनों पक्षों की लंबी बातचीत हुई। जिसमें डीईओ ने अपने ही पत्र को लेकर डायरेक्टर को पत्र लिख दिया। डीईओ नमिता कौशिक का कहना है कि एसोसिएशन की मांग पर डायरेक्टर को पत्र भेजा है। अब डायरेक्टर स्तर पर ही इस मामले में कार्रवाई होगी।

वहीं से अगले दिशा निर्देश वहीं से जारी होंगे।उधर, आंदोलन करने वाले अभिभावकों का नेतृत्व कर रहे एडवोकेट साहब सिंह गुर्जर ने कहा कि स्कूल एसोसिएशन के लोग अधिकारियों पर दबाव बनाना चाह रहे हैं। अगर अधिकारियों ने एसोसिएशन की बात मानी तो वे दोबारा आंदोलन करेंगे।

एडीसी के सामने निजी स्कूल एसोसिएशन ने रखी यह मांग

स्कूल संचालक और एसोसिएशन के प्रधान एमएस साहनी, सुशील जयसवाल समेत अन्य स्कूल संचालकों ने एडीसी रंजीत कौर को बताया कि स्कूलों की ओर से वार्षिक चार्ज लिए जा रहे हैं। इसके कोर्ट पहले ही आदेश जारी कर चुकी है।

फिर भी कुछ लोग दबाव बनाकर अभिभावकों के साथ लघु सचिवालय पहुंच गए। यहां आकर मांग पत्र भी सौंपा। बाद में डीईओ ने लेटर जारी किया। इसमें बताया गया है कि स्कूल संचालक वार्षिक फीस नहीं ले सकते हैं। उनकी नजर में यह कोर्ट के आदेशों की अवहेलना है। कोर्ट पहले ही आदेश दे चुकी है। उसी आधार पर स्कूल संचालक अपनी फीस ले रहे हैं। इससे पहले फार्म 6 भी भरा गया है।

स्प्रिंग फील्ड में नहीं लगी क्लासेज, फीस काउंटर ही खुला

सेक्टर 18 के स्प्रिंग फील्ड स्कूल में मंगलवार से क्लासेज शुरू होनी थी। लेकिन सीबीएसई की ओर से गाइडलाइन नहीं आई, जिसके चलते स्कूल में क्लासेज शुरू नहीं हो सकीं। वाइस प्रिंसिपल राकेश कुमार का कहना है कि गाइडलाइन नहीं आने से क्लासेज नहीं शुरु की हैं। अब ऑनलाइन क्लासेज पर मैनेजमेंट विचार कर रहा है। एक दो दिन में क्लासेज शुरू कर दी जाएंगी। वहीं फीस काउंटर खुला रहा।

इधर, निजी स्कूल पर 40% फीस बढ़ाने का आरोप

सरस्वती सीनियर सेकेंडरी स्कूल प्रबंधन पर अभिभावकों ने 40 प्रतिशत फीस बढ़ाने का आरोप लगाया है। पुरानी फीस जारी रखने की मांग को लेकर जागरूक अभिभावक मंच के बैनर तले अभिभावकों ने शिक्षा मंत्री कंवरपाल से मुलाकात की। उन्होंने अभिभावकों को बताया कि वह इस बारे में पहले भी प्रबंधन से बात कर चुके हैं। फीस न बढ़े इसे लेकर फिर से बात करेंगे।

जागरूक अभिभावक मंच के महासचिव आशीष मित्तल, डाॅ. जफर अहमद, संजीव धीमान, सुनील कपूर, दीपक कुमार, रामदेव, नीरज पांडे, कुलदीप सिंह, नजीर अहमद व राकेश गुप्ता ने बताया कि फीस बढ़ोतरी को लेकर स्कूल के प्रिंसिपल दीपक सिंगला से मिले। उनसे फीस बढ़ाने का कारण पूछा। उनको बताया कि कोरोना काल के कारण काम धंधे चौपट हो रहे हैं।

ऐसे में अब फीस बढ़ाने का फैसला बर्दाश्त से बाहर है। स्कूल द्वारा शिक्षा सत्र 2021-22 में 30-40 प्रतिशत फीस वृद्धि कर दी है। सभी पुराने स्टूडेंट से 3500 रुपए एडमिशन चार्ज मांगा जा रहा है। अभिभावकों की स्कूल प्रबंधन से मांग है कि स्कूल की बढ़ी फीस वापस ली जाए। पुरानी फीस लें। पुराने विद्यार्थियों से जो 3500 रुपए वार्षिक लिए जा रहे है उस पर पाबंदी लगाई जाए।

फार्म 6 भरकर दिया, उस पर बढ़ी फीस: सिंगला

स्कूल प्रिंसिपल दीपक सिंगला का कहना है कि स्कूल की ओर से फार्म 6 भर कर शिक्षा विभाग को दिया है। फार्म में जो ब्यौरा दिया है। उसी के अनुसार फीस में बढ़ोतरी की है। फीस का फैसला मैनेजमेंट लेता है। फिर भी अभिभावकों की मांग को लेकर प्रबंधन से बात की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- कहीं इन्वेस्टमेंट करने के लिए समय उत्तम है, लेकिन किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन अवश्य लें। धार्मिक तथा आध्यात्मिक गतिविधियों में भी आपका विशेष योगदान रहेगा। किसी नजदीकी संबंधी द्वारा शुभ ...

    और पढ़ें