पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

किशोरी की संदिग्ध हालत में मौत:किशोरी का परिवार बोला- उल्टियां लगी तो अस्पताल लाए और रात में दम तोड़ दिया

यमुनानगरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5 दिन पहले वैष्णो दरबार से लौटा था मेहलावाली का परिवार

गांव मेहलावाली में 17 वर्षीय किशोरी की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि मंगलवार सुबह उल्टियां लगने पर किशोरी को जगाधरी अस्पताल लाए, जहां रात में उसने दम तोड़ दिया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। जगाधरी सिविल अस्पताल में शवगृह के बाहर परिवार के लोगों ने बताया कि मृतका प्रियंका (17) का परिवार पांच दिन पहले ही वैष्णो दरबार से लौटा था।

लौटने के बाद यात्रा की थकान थी, पर प्रियंका की मंगलवार सुबह तबीयत बिगड़ गई। उसे उल्टियां होने पर जगाधरी सिविल अस्पताल ले आए, जहां इलाज के दौरान रात में उसकी मौत हो गई। थाना सदर जगाधरी प्रभारी सुरेश कुमार ने कहा कि मौत की सही वजह विसरा की जांच रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगी। अभी परिजनों के बयान पर 174 की कार्रवाई कर पोस्टमार्टम बाद शव परिवार को सौंप दिया है।]

संदिग्ध हालात में नव विवाहिता की मौत

छछरौली| कड़कोली गांव में नवविवाहिता की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। तबीयत खराब होने पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे यमुनानगर रेफर कर दिया। जांच के बाद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। जानकारी के अनुसार 21 वर्षीय रुचि जोकि गर्भवती थी।

7 जुलाई को सुबह के समय नवविवाहिता की अचानक तबियत खराब हो गई। जांच के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। नवविवाहिता को रेफर कर दिया। महिला के परिजन उसे यमुनानगर के निजी अस्पताल में ले गए। उसकी मौत हो गई। नवविवाहिता के परिजनों ने उसके ससुराल पक्ष के लोगों पर उनकी लड़की को मारने का आरोप लगाया है।

सूचना पर छछरौली पुलिस में शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौप दिया है। खबर लिखे जाने तक दोनों पक्षों की छछरौली थाने में आपसी सहमति के चलते बातचीत चल रही थी लेकिन लड़की के परिजन लड़की के ससुराल पक्ष पर कार्रवाई की मांग पर अड़े हए थे, जिसके लिए गांव में भी पंचायत लगी थी, लेकिन कोई समाधान नहीं निकल पाया। गांव के निवर्तमान सरपंच हरविंदर का कहना है कि उनके पास काम करने वाले मजदूर कृष्ण की घरवाली की अचानक तबियत खराब हो गई थी, जिसको यमुनानगर रेफर कर दिया जहां उसकी मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...