शिक्षा विभाग ने संभाली कमान:निजी स्कूल संचालकों से 134ए के तहत डाटा लेकर किया जा रहा अपलोड

यमुनानगर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 134ए के तहत एडमिशन को लेकर शिक्षा विभाग स्कूलों से ले रहा फीडबैक, अभी हुए 923 एडमिशन

निजी स्कूल संचालक नियम 134ए के पोर्टल पर दाखिले ले चुके विद्यार्थियों का डाटा पोर्टल पर अपलोड कराने के लिए शिक्षा विभाग ने खुद कमान संभाली है। बीईओ ऑफिस से स्कूलों में फोन कर फीडबैक लिया जा रहा है। इसके साथ डाटा साथ ही पोर्टल पर भी अपलोड करा रहे हैं।

 नियम 134ए में कई स्कूल एडमिशन के लिए सहयोग नहीं कर रहे हैं जिस कारण शिक्षा विभाग ने कमान खुद संभाली है। जिले में अभी तक 2048 मे से 923 एडमिशन हो चुके हैं। इन स्कूलों में बात कर एडमिशन दिए जाने का कारण पूछा जा रहा है। प्रदेश में सबसे ज्यादा एडमिशन नियम 134ए में कुरुक्षेत्र में तो सबसे कम पंचकूला में 82 हुए हैं। डिप्टी डीईओ पृथ्वी सिंह सैनी का कहना है कि लगभग सभी स्कूल सहयोग कर रहे हैं। एक-दो स्कूल ही बचे हैं जो सहयोग नहीं करना चाह रहे। फिर भी प्रयास में लगे हैं।

अभिभावकों की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने संज्ञान लिया है। इसका असर है कि पोर्टल पर दाखिल हुए बच्चों का डाटा शो होने लगा है। निदेशालय की ओर से अब 26 जनवरी तक स्कूल बंद कर दिए गए हैं। स्कूल स्टाफ के लिए खुले हैं। अभी कुछ स्कूलों में स्टाफ भी नहीं आ रहा है जिसके चलते एडमिशन लेने जाने वाले अभिभावकों को गेट से ही वापस भेज दिया जाता है। उनसे कहा जा रहा है कि स्कूल में अभी अवकाश चल रहे हैं। जो स्कूल दाखिला दे रहे हैं, वह नियम 134ए के पोर्टल पर विद्यार्थियों का डाटा पाेर्टल पर अपलोड नहीं कर रहे हैं जिससे विद्यार्थियों का दाखिला सुनिश्चित नहीं हो पा रहा है। निजी स्कूल संचालकों का तर्क है कि उन्हें पोर्टल पर विद्यार्थियों का डाटा करना नहीं आ रहा है।

बीईओ जगाधरी दर्शन लाल ने स्कूलों काे कहा है कि अगर वे खुद पोर्टल पर डाटा नहीं भर पा रहे हैं तो उनके कार्यालय आ सकते हैं। यहां स्टाफ की मदद से डाटा पोर्टल पर अपलोड किया जा सकता है। मुख्यालय से दाखिला प्रक्रिया पर नजर रखी जा रही है। अभी डेट बढ़ाने को लेकर कोई गाइडलाइन निदेशालय से नहीं आई है। अभी अंतिम डेट 15 जनवरी है। अगर कोई नई गाइडलाइन आती है कि उसके बारे सार्वजनिक कर दिया जाएगा।

134ए के तहत इस जिले में इतने हुए एडमिशन
अम्बाला में 1973 ने टेस्ट पास किया 95 फार्म रिजेक्ट हुए 527 दाखिले हुए 1446 वेटिंग में हैं। भिवानी में 2183 में से 302 रिजेक्ट 1304 एडमिशन हुए 880 कतार में। चरखी दादरी में 1078 पास जिनमें से 20 रिजेक्ट 503 दाखिले हो चुके हैं 575 को इंतजार है।। फरीदाबाद में 2749 पास 127 रिजेक्ट तो 545 एडमिशन स्कूलों में हो गए हैं 2204 को एडमिशन नहीं मिला है। फतेहाबाद में 1382 में से 28 फार्म रिजेक्ट हुए। यहां पर 640 विद्यार्थियों का दाखिला हो गया। यहां 742 विद्यार्थियों का अभी दाखिला नहीं हुआ। गुरुग्राम में 1570 पास हुए हैं 103 रिजेक्ट 511 को एडमिशन 1059 के दाखिले नहीं हो पाए। हिसार में 3137 पास 189 रिजेक्ट 1540 का एडमिशन नहीं हुआ। झज्जर में 2004 में से 137 फार्म रिजेक्ट किए गए 1092 दाखिले हुए 912 के नहीं हो पाए। जींद में 1915 पास हुए 147 रिजेक्ट हुए 1180 के दाखिले हुए 735 को एडमिशन का इंतजार है। कैथल में 2293 विद्यार्थी पास हुए 47 रिजेक्ट किए गए। 1098 का एडमिशन हुआ। 1195 विद्यार्थी कतार में लगे हैँ। इसी तरह यमुनानगर में 2048 विद्यार्थी पास हुए जिनमें से 47 रिजेक्ट हुए। 923 के दाखिले हो चुके हैं 1125 को एडमिशन मिलना बाकी है। इसके साथ ही सोनीपत में 2544 में से 291 रिजेक्ट 1275 के दाखिले हुए और 1269 विद्यार्थियों के एडमिशन होने हैं।

खबरें और भी हैं...