पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान vs भाजपा:भाजपाई देशभक्ति के गीतों पर डांस करने लगे तो किसानों ने ‘पेचा पै गया सेंटर नाल’ गाना चलाकर जताया विरोध

यमुनानगर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भाजपाई एसवाईएल को लेकर उपवास पर बैठे, उन्हें नलवी नहर में मुद्दे पर घेरने पहुंचे किसान
  • विवाद न बढ़े और किसान भाजपा के कार्यक्रम में प्रवेश न कर पाए, पुलिस ने चारों तरफ से घेरा हुआ था पंडाल

कृषि कानूनों पर शुरू हुई लड़ाई के बीच पंजाब की कांग्रेस सरकार और हरियाणा की भाजपा सरकार के बीच राजनीतिक लड़ाई शुरू हो गई। एसवाईएल (सतलुज यमुना नहर) पर हरियाणा की भाजपा सरकार ने पंजाब की सरकार को घेरने के लिए शनिवार को उपवास कार्यक्रम किया। यमुनानगर में भाजपा नेता और वर्कर लघु सचिवालय के सामने पहुंचे। इसी बीच यहां पर पानी की लड़ाई भाजपाई वर्सेज किसान हो गई।

भाजपा वर्कर जहां पंजाब से किसानों का एसवाईएल पर हक मांग रहे थे तो किसान दादुपुर-नलवी नहर के मुद्दे को लेकर वहां पहुंच गए। किसानोें की मांग थी कि नलवी नहर योजना को भाजपा सरकार ने डिनोटिफाई किया है इसलिए वे एसवाईएल के मुद्दे पर राजनीति कर रहे हैं। किसान डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के सामने मंडी गेट पर पहुंचे थे। किसानों की योजना थी कि वे भाजपा के कार्यक्रम में जाएंगे। पहले तो अधिकारियों ने वहीं किसानों को मनाने का प्रयास किया लेकिन नहीं माने।

किसानों को वहां जाने देने के लिए पुलिस फोर्स तैनात की गई लेकिन किसान वहां से भागने में कामयाब हो गए। 200 मीटर दूर दूसरे गेट पर चल रहे भाजपा के कार्यक्रम के चंद कदम की दूरी पर पुलिस ने किसानों को रोक लिया। वहां धक्का-मुक्की हुई। इसमें भाकियू जिलाध्यक्ष सुभाष गुर्जर की हालत बिगड़ गई। पुलिस किसानों को रोकने में कामयाब तो रही लेकिन किसान वहीं रोड पर बैठ गए। जमकर हंगामा हुआ लेकिन किसान वहां से जाने को तैयार नहीं थे। वे भाजपा के कार्यक्रम में जाने की जिद करने लगे। लेकिन बीच में पुलिसकर्मी दीवार बनकर खड़े रहे।

किसानों को पुलिस ने रोका तो वे रोड पर बैठ गए। यहां से भाजपा का कार्यक्रम मात्र 20 मीटर दूर था। दोनों तरफ लाउड स्पीकर से गाने चलते रहे। भाजपा की तरफ से देशभक्ति के गाने चलाए गए और वर्करों ने डांस किया। वहीं, दूसरी तरफ किसानों ने पेचा पै गया सेंटर नाल, गाना चलाया। किसानों के विरोध को देखते हुए मौके पर पुलिस ने भाजपा के कार्यक्रम पंडाल को चारों तरफ से घेरा हुआ था। इस दौरान वाटर कैनन, फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके पर तैनात की गई थी।

भाजपा के कार्यक्रम में विधायक घनश्यामदास अरोड़ा, जिलाध्यक्ष राजेश सपरा, पूर्व मंत्री कर्णदेव कांबोज, मलिक रोजी आनंद, रामेश्वर चौहान, डॉ. रिषीपाल सैनी, भारत भूषण जुवल, धनपत सैनी और अन्य वरिष्ठ नेता थे। कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री के आने की सूचना थी, लेकिन वे नहीं पहुंचे। बताया जा रहा है कि किसानों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए नहीं आए। वहीं, भाजपा के कार्यक्रम का विरोध करने वालों में नलवी नहर संघर्ष समिति के राजेश दहिया, अर्जुन सुढैल, कशमीर सिंह, भाकियू मान गुट से सुभाष गुर्जर, चढ़ूनी गुट से मनदीप रोड छप्पर और आढ़ती भी पहुंचे थे। नलवी नहर को जब सरकार ने बंद करने का फैसला लिया तो संघर्ष समिति बनी थी। तब भाकियू चढ़ूनी गुट भी साथ था, लेकिन बाद में दोनों के बीच विवाद हुआ और दोनों अलग-अलग हो गए थे। लेकिन शनिवार को दोनों एक साथ होकर भाजपा के खिलाफ पहुंचे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें