जल सकंट:पेयजल से गाड़ी धोने व पशु नहलाने पर जुर्माना 20 काॅलाेनियों में सप्लाई का नया शेड्यूल जारी

भिवानीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीराम प्रसाद रामेश्वर दास धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा शहर में संचालित नि:शुल्क जल सेवा के टैंकर शहर व आसपास बस्तियों में प्रतिदिन लाेगाें काे पेयजल उपलब्ध करवा रहे हैं। - Dainik Bhaskar
श्रीराम प्रसाद रामेश्वर दास धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा शहर में संचालित नि:शुल्क जल सेवा के टैंकर शहर व आसपास बस्तियों में प्रतिदिन लाेगाें काे पेयजल उपलब्ध करवा रहे हैं।

नहराें में इस बार पर्याप्त पानी न आने के कारण जलघर के टैंकाें में अभी तक पर्याप्त पानी नहीं पहुंचा है। जून महीने में शहर में पेयजल आपूर्ति प्रभावित न हाे इसके लिए विभाग ने प्रभावित क्षेत्राें के लिए शहर में पेयजल सप्लाई के लिए नया शेड्यूल निर्धारित किया है। इसके अलावा जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने पेयजल से गाड़ी धोने व पशुओं को नहलाते हुए काेई दिखाई दिया ताे विभाग उस से जुर्माना वसूल करेगा।

जनस्वास्थ्य विभाग ने शहर में पेयजल आपूर्ति के लिए समय निर्धारित किया है। क्याेंकि शहर के कई क्षेत्राें में सुबह 4 बजे व रात काे भी सप्लाई छाेड़ी जाती थी, जिससे लाेग नींद में हाेने के कारण पानी से वंचित रह जाते थे। शहर में कुछऐसे क्षेत्र है, जहां पेयजल संकट बना हुआ है और लाे प्रेशर के कारण पानी नहीं पहुंच रहा है। इसलिए विभाग नेऐसे क्षेत्राें के लिए वाटर सप्लाई का नया शेड्यूल जारी किया है। जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता प्रमोद कुमार ने बताया कि डीसी आरएस ढिल्लो के आदेशानुसार पेयजल आपूर्ति का शेड्यूल बनाया गया है।

इसलिए पड़ी जरूरत
सिंचाई विभाग ने क्षेत्र की नहराें के लिए इस बार 850 क्यूसेक पानी की डिमांड भेज गई थी, लेकिन नहराें में 450 से 600 क्यूसेक पानी ही पहुंचा। 28 मई काे नहराें में पानी बंद हाे जाएगा और जलघर के टैंक अभी भी पूरी तरह से पानी से नहीं भरे हैं। इससे जून में शहर में पेयजल संकट अधिक गहराने की आशंका है। गर्मी के कारण पानी की डिमांड भी 25 प्रतिशत तक बढ़ी है। शहर में रोज 75 एमएलडी पानी की जरूरत है जबकि सप्लाई 50 एमएलडी से भी कम हाे रहा है। दाे दर्जन से अधिक क्षेत्राें में लाे प्रेशर के कारण टेल तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। इसलिए विभाग काे प्रभावित क्षेत्राें के लिए पेयजल सप्लाई का शेड्यूल बनाना पड़ा।

पानी की बचत के लिए सख्ती
जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता प्रमोद कुमार ने कहा कि पेयजल आपूर्ति के दौरान अक्सर लोग गाड़ी धोते हैं। यहां तक की पशुओं को भी नहलाते है। इससे पेयजल लाइनाें की अंतिम छोर तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। संबंधित क्षेत्र के नागरिकों को समुचित पेयजल न मिलने कारण अनेक क्षेत्राें में पेयजल संकट पैदा हाे रहा है और नागरिकाें काे पानी न मिलने कारण अनेक परेशानियाें का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अगर काेई व्यक्ति पेजयल ये पशुओं को नहलाने व गाड़ी धोने का काम करेगा उससे विभाग जुर्माना वसूल करेगा। उन्हाेंने नागरिकाें से व्यर्थ पानी न बहाने की भी अपील की है।

जानिए... अब किन क्षेत्राें में पेयजल आपूर्ति का क्या रहेगा शेड्यूल

. नेताजी नगर में पेयजल आपूर्ति सुबह 9 से 10 बजे तक।

. डीसी कॉलोनी में सुबह 7 से 9 बजे तक।

. फ्रेंडस कॉलोनी में सुबह 8 से 10 बजे तक।

. पटेल नगर में शाम 5.30 से 7 बजे तक।

. विद्या नगर में सुबह 4 से 5 बजे तक।

. किर्ती नगर में शाम 5 से 6.30 बजे तक।

. इंदिरा कॉलोनी में सुबह 7 से 9 बजे तक।

. कोंट रोड शांति नगर क्षेत्र में सुबह 7.30 से 9 बजे तक।

. बैंक कॉलोनी में सुबह 4.30 से 6 बजे तक।

. ढाणा रोड क्षेत्र में सुबह 5.30 से 6.30 बजे तक।

. भारत नगर में सुबह 11.30 से 1.30 बजे तक।

. ढाणा रोड में सुबह 7.30 से 9 बजे तक।

. हनुमान ढाणी में सुबह 8.30 से 9.30 बजे तक।

. चरखान ढाणी में सुबह 5.30 से 7 बजे तक।

. कृष्णा कॉलोनी में शाम 4 से 5.30 बजे तक।

. मानान पाना में सुबह 4 से 5.30 बजे तक।

. निरमान गली दिनोद गेट क्षेत्र में सुबह 5.30 से 7 बजे तक।

. जीतूवाला जोहड़ क्षेत्र में सुबह 6 बजे से 7.30 बजे तक।

. रूद्रा कॉलोनी में सुबह 5.30 से 6.30 बजे तक।

. हांसी रोड बीडी गुप्ता पार्क क्षेत्र में सुबह 5 से 6 बजे तक पेयजल की आपूर्ति की जाएगी।

खबरें और भी हैं...