• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Bhiwani
  • Millet Producing Farmers Have A Lower Price Than The Support Price In The Market, Loss Of 600 Per Quintal Due To Selling On Open Bidding

किसानी:बाजरा उत्पादक किसानाें काे मंडी में समर्थन मूल्य से कम भाव, खुली बाेली पर बिक्री करने से 600 प्रति क्विंटल का नुकसान

भिवानी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भावांतर योजना के तहत पंजीकृत किसानाें के खाताें में डाली जा सकती है 400 रुपये प्रति क्विंटल की राशि

बाजरा उत्पादक किसानाें काे अनाज मंडी में बाजरा का समर्थन मूल्य भी नहीं मिल पा रहा है। इससे किसानाें काे भाव में प्रति क्विंटल लगभग 500 से 600 रुपये का आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। बताया जा रहा है कि सरकार इस बार भी मंडियाें में बाजरा की समर्थन मूल्य पर खरीद न कर भावांतर योजना के तहत पंजीकृत किसानाें के खाताें में राशि डालेगी।

जिले में लगभग 45 हजार किसानाें ने बाजरा की बिक्री के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करवाया हुआ है। बाजरा का समर्थन मूल्य 2350 रुपये प्रति क्विंटल है जबकि माैजूदा समय में जिले की अनाज मंडियाें में खुली बाेली पर बाजरा 1750 से 1850 रुपये प्रति क्विंटल के भाव बिक्री हाे रहा है। यह समर्थन मूल्य से 500 से 600 रुपये प्रति क्विंटल कम है।

खबरें और भी हैं...