मोहित पर की गई थी अंधाधुंध फायरिंग:मोहित कासनी हत्याकांड का आरोपी पिस्टल सहित काबू

बौंदकलांएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मोहित कासनी हत्याकांड मामले में गिरफ्तार मुख्य आरोपी नवीन फतेहगढ़ पुलिस टीम के साथ। - Dainik Bhaskar
मोहित कासनी हत्याकांड मामले में गिरफ्तार मुख्य आरोपी नवीन फतेहगढ़ पुलिस टीम के साथ।

स्पेशल स्टाफ चरखी दादरी पुलिस की टीम ने मोहित कासनी की बाइक सवारों द्वारा घर के बाहर गोली मारकर हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपी नवीन फतेहगढ़ को एक पिस्टल सहित गिरफ्तार कर दो दिन के रिमांड पर लिया है। शिकायतकर्ता रामचन्द्र पुत्र जीवन लाल निवासी कासनी ने थाना बौंद कलां पुलिस को एक शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसमें शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया कि वह एसपीओ पुलिस विभाग दादरी में तैनात है। उसके बड़े भाई धर्मबीर पुत्र जीवन लाल का लड़का मोहित जमींदारा करने का काम करता था। गत 3 अक्टूबर की सुबह मोहित अपने मकान के साथ गली में खड़ा था। तीन नौजवान लड़के अपने-अपने हाथों में हथियार लेकर आए और एकदम से तीनों ने मोहित पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। वह सामने से आ रहा था और उसका लड़का राहुल वहीं नजदीक खड़ा था। उन्होंने यह सब देखा तो तीनों लड़के एक मोटरसाइकिल बिना नंबर पर बैठकर भागने लगे। उसने उनको रोकने की कोशिश की व मोटरसाइकिल को गिरा लिया। उनमें बीच में बैठे लड़के नवीन निवासी फतेहगढ़ जिसको वह पहले से ही जानता था ने उसकी तरफ पिस्तौल तान दी। तीनों लड़के मोटरसाइकिल को छोड़कर भाग गए। जिनको पकड़ते समय उसे भी चोट लगी थी। फिर उसने डायल नंबर 112 पर सूचना दे दी। यह तीनों लड़के प्रदीप कासनी गैंग से संबंध रखते है। उसके भतीजे मोहित को मरवाने में प्रवीण उर्फ मांडू पुत्र धूप सिंह निवासी कासनी, नित्यानंद ऊर्फ नेता पुत्र सुरेंद्र सिंह निवासी कासनी व प्रदीप कासनी ने षड्यंत्र किया है। इन तीनों ने उसके भतीजे मोहित की गोलियां मारकर हत्या कर दी। स्पेशल स्टाफ की टीम ने मोहित कासनी की बाइक सवारों ने घर के बाहर गोली मारकर हत्या करने के मामले में मुख्य आरोपी को बस अड्डा कमोद से गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। आरोपी की पहचान नवीन पुत्र जगत सिंह उर्फ जगता निवासी फतेहगढ़ जिला चरखी दादरी के रूप में हुई है। आरोपी को न्यायलय में पेश करके दो दिन का रिमांड हासिल किया गया है। आरोपी से एक पिस्टल बरामद किया गया है।

मामले में दो आरोपी पहले हो चुके हंै गिरफ्तार
मोहित कासनी हत्याकांड में 2 आरोपी अंकुर उर्फ बोना पुत्र महेन्द्र सिंह उर्फ मोनी व क्रांति उर्फ कान्त पुत्र सुनील कुमार उर्फ सुनिया निवासियान भोजावास थाना कनीना जिला महेन्द्रगढ़ को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। पुलिस टीम ने उक्त दोनों आरोपियों से 2 देशी पिस्तौल व 4 जिन्दा रौंद बरामद किए गए थे।
मारपीट, जान से मारने की धमकी व छीना झपटी समेत कई आरोप
मोहित कासनी हत्याकांड में मुख्य आरोपी नवीन फतेहगढ़ पर सिटी थाना दादरी में 3, थाना सतनाली महेंद्रगढ़ में 5, सदर दादरी थाना में 2 जबकि बौंदकलां, सिविल थाना भिवानी और सदर थाना भिवानी में एक-एक मुकदमा दर्ज है। आरोपी नवीन फतेहगढ़ पर मारपीट, जान से मारने की धमकी, रास्ता रोकने, शस्त्र अधिनियम, चोरी और छीनाझपटी समेत अन्य गंभीर आरोप हैं।

खबरें और भी हैं...