रोष प्रदर्शन:आउटसोर्स कर्मचारियों ने 44वें दिन धरने पर जताया रोष प्रदर्शन, कहा कि हरियाणा सरकार ने हमारे बहुत ही गिरा हुआ कार्य किया

चरखी दादरी4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • हमने दो साल तक इस भयंकर बीमारी में अपनी जान जोखिम में डालकर जो कार्य है उसका हरियाणा सरकार ही नहीं पूरा हिंदुस्तान गवाह है

उद्यम सिंह जैन सिविल अस्पताल में नौकरी गंवाने के बाद रोजगार के लिए संघर्ष कर रहे स्वास्थ्य विभाग (कोरोना योद्धा) के आउटसोर्स कर्मचारियों का धरना शनिवार 44वें दिन भी जारी रहा। धरने की अध्यक्षता नसीब नर्सिंग अधिकारी ने की। धरने का संचालन जिला कोविड उप-प्रधान व कोषाध्यक्ष संजय बिहवाल ने किया। धरने को संबोधित करते हुए कहा कि हरियाणा सरकार ने हमारे बहुत ही गिरा हुआ कार्य किया है।

हमने दो साल तक इस भयंकर बीमारी में अपनी जान जोखिम में डालकर जो कार्य है उसका हरियाणा सरकार ही नहीं पूरा हिंदुस्तान गवाह है। हरियाणा सरकार ने हमारी आजीविका छीनकर अपनी औच्छी मानसिकता का परिचय दिया है। जिला प्रधान मनीषा ने कहा कि हमारे परिवार की आजीविका का एक मात्र साधन यही नौकरी थी। हरियाणा सरकार ने हमारा रोजगार छीनकर हमें सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर कर दिया है तथा भूखे मरने की कगार पर छोड़ दिया है। मनीषा ने कहा कि कोई भी मंत्री अपने राज्य का राजा होता है और यदि प्रजा को कोई समस्या हो रही हो तो उसका हल निकालना राजा का ही कर्तव्य होता है। कोविड योद्धाओं की नौकरी बहाल कर देनी चाहिए ताकि हम भी अपने कार्य पर जाकर अपने परिवार की आजीविका चलाने में सक्षम हो सके। इस अवसर पर सरिता, रीना, सुशीला आदि कोविड स्टॉफ सदस्यगण उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...