मामलों का निबटारा:लोक अदालत के दौरान दोनों पक्षों की रजामंदी से, 1271 मामलों का निपटारा किया गया

चरखी दादरी13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोर्ट केसों के साथ-साथ राजस्व, बैंक रिकवरी तथा बिजली से संबंधित मामलों की भी इस लोक अदालत में सुनवाई की गई

जिला न्यायिक परिसर में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। लोक अदालत के दौरान दोनों पक्षों की रजामंदी से 1271 मामलों का निपटारा किया गया। अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश जसबीर सिंह कुंडू, एसीजेएम संदीप यादव तथा न्यायिक दंडाधिकारी सुमित कालों ने लोक अदालत में मामलों की सुनवाई की। राष्ट्रीय लोक अदालत में वाहन दुर्घटना अधिनियम, रिकवरी, फौजदारी, चेक बाउंस, वैवाहिक मामलों की सुनवाई की गई। कोर्ट केसों के साथ-साथ राजस्व, बैंक रिकवरी तथा बिजली से संबंधित मामलों की भी इस लोक अदालत में सुनवाई की गई।

राष्ट्रीय लोक अदालत में सुनवाई के लिए 2871 मामले रखे गए। जिसमें से 1271 मामलों का मौके पर निपटारा कर दिया गया तथा विभिन्न मामलों में 3 करोड़ 43 लाख 78 हजार 722 रुपए की राशि समझौते व हर्जाना के तौर पर घोषित की गई है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के चेयरमैन एडीजे जसबीर सिंह कुंडू ने बताया कि लोक अदालत का मकसद लोगों की आपसी सहमति से विवाद का निपटारा करना है। इसलिए समय-समय पर प्राधिकरण द्वारा लोक अदालत का आयोजन किया जाता है, ताकि लोग अपने केसों का सरलता से समाधान करवा सके और आपसी भाईचारा बना रहे। प्राधिकरण सचिव सौरभ कुमार ने बताया कि आज सुबह दस बजे तीनों बेंचो ने लोक अदालत की कार्रवाई शुरू कर दी थी। अधिवक्ताओं एवं पीएलवी के सहयोग से लोक अदालत का आयोजन सफल रहा।

खबरें और भी हैं...