• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • Due To 15 Minutes Of Rain, Water Filled Many Rooms Of OPD And Emergency Of BK Hospital, Problems Faced By Patients And Relatives

जिम्मेदार कौन::15 मिनट की बारिश से बीके अस्पताल की ओपीडी व इमरजेंसी के कई कमरों में भर गया पानी, मरीजों व तीमारदारों को हुई परेशानी

फरीदाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार सुबह करीब दस बजे हुई थी बारिश, अभी तीन दिन पहले ही इस अस्पताल ने बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का हासिल किया था प्रमाण पत्र। - Dainik Bhaskar
मंगलवार सुबह करीब दस बजे हुई थी बारिश, अभी तीन दिन पहले ही इस अस्पताल ने बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का हासिल किया था प्रमाण पत्र।

मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का दावा कर नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड का प्रमाण पत्र लेकर इतराने वाले बीके अस्पताल प्रबंधन की मंगलवार को पोल खुल गई। सुबह हुई बारिश के कारण यहां के ओपीडी और इमरजेंसी के कई कमरों में पानी भर गया। इससे मरीजों, मेडिकल स्टाफ, तीमारदार व डॉक्टरों को भी परेशानी हुई। सफाईकर्मी काफी देरतक पानी निकासी का प्रयास करते रहे। यह हाल तब है जबकि अभी बारिश की प्रॉपर शुरूआत भी नहीं हुई है। ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि यहां मरीजों को कितनी बेहतरीन सुविधाएं मिलती होगी।

पिछले महीने छत की सीलिंग गिरी थी

बता दें कि गत 22 मई को आए तूफान के साथ बारिश के कारण हड्डी रोग विशेषज्ञ डाॅ.आरएस गौड़ के ओपीडी रूम की सीलिंग गिर गई थी। इसमें कंप्यूटर और टेबल टूट गए थे। गनीमत यह थी कि उस समय ओपीडी बंद थी। अस्पताल सूत्रों की मानें तो यहां बड़े स्तर पर मेंटेनेंस का कार्य चल रहा है। लेकिन बारिश से बचाव के उपाय ठीक ढंग से नहीं किए गए हंै। पाइप लाइन जगह-जगह से लीक कर रही है। मंगलवार सुबह तेज बारिश के शुरू होने के कुछ देर बाद ही ओपीडी और इमरजेंसी सहित कई कमरों मंे पानी भर गया। ओपीडी में मरीजों को बारिश के पानी में खड़े रहना पड़ा। अस्पताल की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ. सविता यादव का कहना है कि तीन डाॅक्टर द्वारा रिपोर्ट तैयार कर पीडब्ल्यूडी को सौंपी गई है। क्योंकि इसके मेंटिनेंस के जिम्मेदारी उन्हीं की है।

खबरें और भी हैं...