• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • English Debate Organized On Second Day Of FPSC Inter School Competition, Nischal And Yashita Of Modern School Became Winners

वाद विवाद प्रतियोगिता:एफपीएससी अंतर स्कूल प्रतियोगिता के दूसरे दिन इंग्लिश डिबेट का आयोजन, मॉर्डन स्कूल  की निश्चल व यशिता बनी विजेता

फरीदाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वाद विवाद प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया। - Dainik Bhaskar
वाद विवाद प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित किया गया।

एफपीसीसी अंतर स्कूल प्रतियाेगिता के दूसरे दिन इंग्लिश डिबेट प्रतियोगिता का शुभारंभ मॉर्डन स्कूल सेक्टर 17 में किया गया। जिसमें इसी स्कूल की छात्रा निश्चल भड़ाना और यशीता ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। दिल्ली स्कॉलर्स इंटरनेशनल स्कूल की छात्राएं गरिश्मा और विधि ने द्वितीय और विद्या मंदिर स्कूल के छात्र तीसरे स्थान पर रहे। पक्ष और विपक्ष के बेस्ट स्पीकर की ट्रॉफी भी मॉर्डन स्कूल की छात्राओं ने जीती।

प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि एसडीएम बड़खल पंकज सेतिया ने इस तरह की वाद विवाद प्रतियोगिता को छात्रों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि आज का विषय "सक्सेस इज मोर इंपोर्टेंट देन हैप्पीनेस" बहुत ही अच्छा विषय है। आज के इस तनाव भरे जीवन में हम सफलता पाने की कीमत में अपने स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। तरह तरह कि बीमारियों का शिकार हो रहे हैं। बच्चों को इससे बचना चाहिए। एफपीएससी के एडवाइजर ऋषिपाल चौहान ने इंग्लिश प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए कहा कि हार जीत मकसद न होकर प्रतियोगिता में भागीदारी सुनिश्चित करना चाहिए। इस मौके पर एफपीएससी के प्रधान नरेंद्र परमार, मॉर्डन स्कूल की प्रिंसिपल नीलिमा जैन, एस कुमार कुकरेजा, सुनीता सिंह, नीलम दुग्गल, ज्योति जैन, टीएस दलाल, वाई के माहेश्वरी, बीडी शर्मा, राजदीप सिंह, भारत भूषण, सुशील जैन, अर्चना डोगरा आदि शामिल रहे।

डीएवी स्कूल में विद्यार्थियों को आग से बचाव की जानकारी देते सीआईएसएफ के जवान
डीएवी स्कूल में विद्यार्थियों को आग से बचाव की जानकारी देते सीआईएसएफ के जवान

डीएवी स्कूल एनटीपीसी में अग्नि सुरक्षा का दिया प्रशिक्षण

डीएवी पब्लिक स्कूल एनटीपीसी फरीदाबाद के प्रांगण में अग्नि सुरक्षा प्रशिक्षण एवं अभ्यास का आयोजन किया गया जिसमें विद्यार्थियों को अचानक लगी आग की परिस्थिति में अपनी तथा दूसरों की सुरक्षा किस प्रकार की जाए, की जानकारी दी गई। एनटीपीसी फायर सेफ्टी मैनेजर शुधुराम ने कहा कि समय को देखते हुए समाज के हर नागरिक को आग से बचाव की प्राथमिक जानकारी होनी चाहिए। खासकर बच्चों को। आग में फंसने के दौरान वह किस प्रकार सुरक्षित बाहर निकलें और दूसरों की मदद करें, इसका ज्ञान जरूरी है। इस मौके पर एके वर्मा सब इंस्पेक्टर एनटीपीसी गाइड फायर सेफ्टी, रामेश्वर दत्त सब इंस्पेक्टर सीआईएसएफ विद्यालय की प्रधानाचार्या अलका अरोड़ा आदि मौजूद रहे।