एचआर कॉन्क्लेव में वक्ता बोले::कैंपस प्लेसमेंट के दौरान ही स्टूडेंट को जॉब मिल जाए तो इसके लिए उसे सही तैयारी करना जरूरी है

फरीदाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद। एचआर कांक्लेव को संबोधित करते वक्ता। - Dainik Bhaskar
फरीदाबाद। एचआर कांक्लेव को संबोधित करते वक्ता।
  • वक्ताओं ने कहा एचआर का मुख्य काम नए लोगों की भर्ती करना, कंपनी का प्रबंधन करना और नए कर्मचारियों को दिशा निर्देश देना होता है।

लिंग्याज यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स के लिए एचआर कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। इसमें वक्ता के रूप में विभिन्न कंपनियों से आए उच्चाधिकारी रायजादा सौरभ बाली, प्रणव खरबंदा और निखिलेश श्रीवास्तव मौजूद थे। कांक्लेव में मौजूद करीब 500 छात्र-छात्राओं को एचआर के महत्व के बारे में बताया गया कि किसी कंपनी में उसकी क्या भूमिका होती है। वक्ताओं ने कहाकि एचआर का मतलब ह्यूमन रिसोर्स जिसे हिंदी में हम मानव संसाधन कहते हैं। उन्होंने बताया सभी बड़ी कंपनियों में एचआर ग्रुप होता है। इसका मुख्य काम नए लोगों की भर्ती करना, कंपनी का प्रबंधन करना और नए कर्मचारियों को दिशा निर्देश देना होता है।

इस दौरान लिंग्याज ग्रुप के चेयरमैन डा. पिचेश्वर गड्डे ने कहां कि जॉब ढूंढने के लिए हमें काफी मशक्कत करनी पड़ती है। उन्होंने स्टूडेंट्स से कहा अगर आप चाहते हैं कि कैंपस प्लेसमेंट के दौरान ही स्टूडेंट को जॉब मिल जाए तो इसके लिए उसे सही तैयारी करना जरूरी है। हमारे यहां कैंपस में ही इंटरव्यू क्रैक करने के टिप्स सिखाए जाते हैं, जिसकी मदद से आप अपनी मनपसंद कंपनी में नौकरी हासिल करने में कामयाब हो सकते है। सौरभ बाली ने दक्षता की आवश्यकता पर बल देते हुए डिजिटल इंटरेक्शन में वृद्धि पर बात की। उन्होंने कहाकि प्रौद्योगिकी, इंटरनेट, सूचना, नेटवर्क और बायोटेक लहर अग्रणी है। वक्ता खरबंदा ने कहां कि यह एक ऐसा अंतर्राष्ट्रीय मंच है जहां अलग-अलग विचारों के लोग अपनी बातों को लोगों के साथ शेयर करते हैं। वक्ता को 18 मिनट का समय दिया जाता है जिसमें उसे अपनी कहानी, काम, आइडिया और विचार लोगों के सामने रखने होते हैं। वक्ता निखिलेश श्रीवास्तव ने एचआर से जुड़ी बारीखियों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि कैंपस प्लेसमेंट में आजकल सिर्फ इंटरव्यू ही नहीं बल्कि ग्रुप डिस्कशन भी फेस करना होता है। ग्रुप डिस्कशन के लिए आप अपने दोस्तों के साथ एक ग्रुप में शामिल होकर किसी टॉपिक के बारे में डिस्कश करें। इस मौके पर वाइस चांसलर प्रो डा. जीजी शास्त्री, प्रो वाइस चांसलर प्रो. जसकिरण कौर, प्रो वाइस चांसलर आरएनडी डॉ. जीएम.पाटिल मौजूद थे। मंच संचालन प्लेसमेंट एंड कॉरपोरेट रिलेशन आफिसर विक्रांत अग्रवाल ने किया।

खबरें और भी हैं...