सहूलियत::सीवर-पानी कनेक्शन के लिए कराई जा रही मुनादी, कनेक्शन लेने के लिए 15 दिन का समय, इसके बाद कनेक्शन कटेंगे

फरीदाबाद5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
संबंधित मकान मालिकों के खिलाफ की जाएगी कानूनी कार्रवाई, अवैध कनेक्शन धारक अपनी फाइल मैन्यूवल तरीके से बनाकर ले सकते हैं कनेक्शन। - Dainik Bhaskar
संबंधित मकान मालिकों के खिलाफ की जाएगी कानूनी कार्रवाई, अवैध कनेक्शन धारक अपनी फाइल मैन्यूवल तरीके से बनाकर ले सकते हैं कनेक्शन।

वर्षों से फ्री में पानी पीने और सीवर लाइन का प्रयोग करने वालों पर अब शिकंजा कसने की तैयारी है। निर्धारित समयसीमा में कनेक्शन न लेेने वालों का कनेक्शन काटने के साथ साथ कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी। इसे लेकर नगर निगम पूरे शहर में मुनादी करा रहा है। साथ ही निगमकर्मियों काे वार्ड वाइज भेजकर लोगों से कनेक्शन लेने की सिफारिश भी कर रहा है। निगम प्रशासन एेसे लोगों को 15 दिन की मोहलत दे रहा है। इसके बाद एक्शन लिया जाएगा।

एनआईटी जोन के एक्सईएन ओपी कर्दम ने बताया कि पूरे इलाके में ऑटो के जरिए मुनादी कराई जा रही है। इसके अलावा वार्ड वाइज कर्मचारियों को भेजकर लोगों से पानी व सीवर के कनेक्शन लेने की अपील की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस काम के लिए नगर निगम ने 30 से अधिक प्लंबरों को इन पैनल किया है। कोई भी मकान मालिक अपने वार्ड के प्लंबर से संपर्क कर मैन्यूवल तरीके से फाइल तैयार कर कनेक्शन ले सकता है। निगम ने इसके लिए 200 रुपए फीस भी निर्धारित कर रखी है। उन्होंने कहाकि अभी लोगों के मौका अच्छा है। ऑनलाइन अावेदन करने के बजाय मैन्यूवल तरीके से फाइल तैयार कर कनेक्शन ले सकता है। 15 दिन बाद एक्शन लिया जाएगा। लेागों के सीवर व पानी के कनेक्शन काट दिए जाएंगे। साथ ही उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज कराई जाएगी।

4.50 लाख लोग पी रहे फ्री का पानी

नगर निगम अधिकारियों की मानें तो निजी कंपनी द्वारा किए गए सर्वे के अनुसार पूरे शहर में कुल करीब साढ़े छह लाख कनेक्शन हैं। इनमें से महज डेढ़ लाख कनेक्शन ही वैध हैं। यानी करीब साढ़े चार लाख पानी के कनेक्शन अवैध हैं। लोग फ्री में पानी पी रहे। इससे नगर निगम को कोई इनकम नहीं हो रही।