• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • The Car Driver Of The Showroom Company Turned Out To Be The Master Mind, Was Robbed From The Companions, Four Robbers Arrested

5.50 लाख रुपए की लूटकांड का खुलासा:शोरूम कंपनी का कार चालक निकला मास्टर माइंड, साथियों से कराई थी लूट, चार लुटेरे गिरफ्तार

फरीदाबाद3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूछताछ में किया खुलासा, कर्ज होने पर अपने चचेरे भाईयों व साथी के साथ मिलकर रची थी लूट की साजिश।(साजिशकर्ता नीले शर्ट में) - Dainik Bhaskar
पूछताछ में किया खुलासा, कर्ज होने पर अपने चचेरे भाईयों व साथी के साथ मिलकर रची थी लूट की साजिश।(साजिशकर्ता नीले शर्ट में)

पिछले दिनों सेक्टर 16 पुलिस चौकी के पास हुई साढ़े पांच लाख रुपए की लूटकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। इस लूटकांड का मास्टर माइंड कार चालक ही निकला। उसने ही अपने साथियों के साथ मिलकर लूटपाट की वारदात को अंजाम दिलाया था। पुलिस ने चालक और उसके तीन अन्य साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। प्रारंभिक पूछताछ में यह बात सामने आयी है कि आरोपी चालक पर कर्ज हो गया था। उसे चुकाने के लिए अपने चचेरे भाइयों और साथी के साथ मिलकर लूट की साजिश रची थी। पुलिस आरोपियों को कोर्ट में पेशकर रिमांड पर लेगी।

बता दें कि 28 अगस्त की शाम करीब 6 बजे कार शोरूम के चालक जितेंद्र और एचआर कर्मी राजकिशोर कार से साढ़े पांच लाख रुपए लेकर सेक्टर 16 स्थित मालिक के घर देने जा रहे थे। तभी 3 लडके मोटरसाइकिल पर सवार होकर आए। सेक्टर-16 सब्जी मंडी के पास मोटरसाइकिल कार के आगे लगा दी और पिस्टल के बल पर कार के शीशे तोड़कर पिटाई करके पैसे लूटकर फरार हो गए थे। एसीपी क्राइम सुरेन्द्र स्योराण ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियो में जितेन्द्र उर्फ जीतू (ड्राइवर) अपने साथी संजय, अंकित और सुमित के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था। आरोपी जितेन्द्र और संजय गांव तिगांव के, अंकित सेक्टर-88 का तथा आरोपी सुमित उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर का रहने वाला है। वर्तमान में गांव भूपानी में रहता है। उन्होंने बताय कि इस मामले में क्राइम ब्रांच ने तफ्तीश करते हुए ड्राइवर जितेन्द्र उर्फ जीतू से वारदात से संबंध में पूछताछ की तो उस पर शक हुआ। क्राइम ब्रांच टीम को मुखबिर से सूचना मिली कि वारदात में जीतू का भी संबंध है। जितेन्द्र को गांव तिगांव से गिरफ्तार किया है। पूछताछ में खुलासा किया कि उस पर कर्जा होने के कारण अपने चाचा के लड़के और दोस्तों के साथ मिलकर लूट की साजिश रची। मास्टर माइंड जीतू शोरुम में पिछले 7 महीने से ड्राइवरी का काम कर रहा था। उसे पैसे लाने ले जाने का काम मिला था। उन्होंने बताया कि लूटे गए पैसे और हथियार की बरामदगी के लिए आरोपियों को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा।