धोखाधड़ी:फूड कारपोरेशन ऑफ इंडिया में नौकरी दिलाने के नाम पर ठग लिए साढ़े तीन लाख, पैसे मांगने पर दी जा रही जान से मारने की

फरीदाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने दर्ज किया केस, आरोपी ठग अभी पुलिस की पकड़ से बाहर( फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
पीड़ित की शिकायत पर पुलिस ने दर्ज किया केस, आरोपी ठग अभी पुलिस की पकड़ से बाहर( फाइल फोटो)
  • ठगों ने खुद को विभाग का उच्चाधिकारी बताकर कई को नाैकरी दिलाने का दिया था झांसा

फूड कारपोरेशन ऑफ इंडिया(एफसीआई) में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगों ने एक व्यक्ति से साढ़े तीन लाख रुपए ठग लिए। नाैकरी न लगने पर जब पीिड़त ने दिए हुए पैसे वापस मांगे ताे ठगाें ने जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित ने इसकी शिकायत पुलिस कमिश्नर विकास अराेड़ा से की। सीपी के आदेश पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है लेकिन ठगों का सुराग नहीं लगा है।

बाईपास रोड बसेलवा कॉलोनी निवासी राेहित कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि कोटेश्वर रोड़ ग्वालियर, मध्यप्रदेश निवासी हरिमोहन शास्वत, बदरपुर, मोलड़बंद निवासी मयंक दूबे से कुछ दिन पहले मुलाकात हुई थी। अारोपियों ने कहा कि वह एफसीअाई में उच्चाधिकारी हैं। विभाग में अच्छी जाान पहचान है। कई लोगों की सरकारी पक्की नौकरी एफसीआई में लगवाई है। आरोपियों ने रोहित की नौकरी भी लगवाने का आश्वासन दिया। इसके लिए पांच लाख रुपए लगने की बात कही। इसके बदले उनसे कई चरणों में साढ़े तीन लाख रुपए ले लिए। ठगाें ने तीन चार महीने में ज्वाइनिंग लेटर आने का आश्वासन दिया। पीड़ित करीब चार महीने तक ज्वाइिंग लेटर का इंतजार करता रहा लेकिन कोई लेटर नहीं आया। पीड़ित ने जब अपने दिए पैसे वापस मांगने लगे तो आराेपी किसी न किसी बहाने टरकाते रहे। जब ज्यादा दबाव बनाया तो आारोपियों ने जान से मारने की धमकी देते हुए किसी बुजुर्ग को परेशान करने का झूठा आरोप लगाकर फंसाने की धमकी दी। पीड़ित काफी समय तक चक्कर काटता रहा। आखिर में उसने पुलिस कमिश्नर से शिकायत की। शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।