जानकारी:सड़क हादसाें से बचने के लिए विद्यार्थियों को दी गई यातायात नियमों की जानकारी, बचाव के उपाय बताए

फरीदाबाद5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एक्सपर्ट बोले, सुरक्षा के साथ समझौता, दुर्घटनाओं को न्योता। - Dainik Bhaskar
एक्सपर्ट बोले, सुरक्षा के साथ समझौता, दुर्घटनाओं को न्योता।

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर 21 डी में सड़क सुरक्षा पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें सड़क दुर्घटना से बचाव को लेकर जागरूकता अभियान चलाया गया। हरियाणा सड़क सुरक्षा परिषद के सदस्य व एनएसएस के प्रभारी डॉ दुर्गेश ने विद्यार्थियों को सड़क हादसों से बचने के लिए जरूरी उपायों की जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि सडक़ नियमों का पालन करने से बहुत सी जिन्दगियां बच सकती है। एक छोटी सी भूल पूरे घर को बिखेरकर रख देती है। उन्होंने बताया कि घर से निकलते समय वाहन के टायरों की हवा और तेल-पानी की अच्छी तरह जांच करनी चाहिए। इसके अलावा ब्रेक और क्लच की भी समय पर जांच करवानी चाहिए। वाहन चलाते समय शराब का सेवन और मोबाइल का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। कार चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट लगाएं। मुड़ते समय इंडीकेटर का इस्तेमाल करें। उन्होनें बताया कि कि अंधेरे में चमकने वाली रेडियम स्ट्रिप को वाहनों पर लगाकर दुर्घटनाओं को रोका जा सकता है। डॉ दुर्गेश ने विद्यार्थियों को "सड़क सुरक्षा - जीवन सुरक्षा" के मूल मन्त्र को अपनाते हुए गति पर नियन्त्रण रखने, हेलमेट लगा कर दोपहिया वाहन चलाने और यातायात के मियमों का पालन करने का सुझाव दिया। इस मौके पर स्कूल के प्रधानाचार्य डॉ जितेंद्र कुमार, विद्यालय स्टाफ़ सदस्य, सीमा अग्रवाल, आशा तोमर, सुनीता, मीनू शर्मा व राजन आदि मौजूद रहे।