इंडक्शन कार्यक्रम में स्टूडेंट्स से शिक्षाविद बोले::आपके पास पर्याप्त समय है, इसका सही उपयोग करे, कट एंड पेस्ट कर रिसर्च कार्य न करें

फरीदाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरीदाबाद। इंडक्शन कार्यक्रम में संबोधन देते शिक्षाविद। - Dainik Bhaskar
फरीदाबाद। इंडक्शन कार्यक्रम में संबोधन देते शिक्षाविद।
  • लिंग्याज विद्यापीठ में नए शोधार्थियों के लिए इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

लिंग्याज विद्यापीठ में नए शोधार्थियों के लिए इंडक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें विषय विशेषज्ञ के रूप में इंस्टिट्यूशन ऑफ इंजीनियर्स के चेयरमैन संदीप हांडा ने शोध करने वाले छात्रों को शोध प्रक्रिया के बारे में जानकारी दी। साथ ही छात्रों के व्यक्तित्व एवं विशेष गुणों से अवगत कराते हुए शोध के मंत्रों की व्याख्या की। इस दौरान छात्रों ने सेल्फ इंट्रोडक्शन देकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। चेयरमैन डा. पिचेश्वर गड्डे ने सभी शोधार्थियों का स्वागत करते हुए कहा कि आपके पास पर्याप्त समय है और इसका भरपूर प्रयोग कीजिए लेकिन कट एंड पेस्ट कर रिसर्च कार्य न करें। अपना खुद का सर्वे करें। उन्होंने कहा रिसर्चर्स को यूनिवर्सिटी की ओर से सभी जरूरी सुविधाएं मिलेंगी। रिसर्चर्स भी ध्यान रखें कि उनका शोध समाज को भी फायदा पहुंचाए। वाइस चांसलर प्रो (डॉ) जीजी शास्त्री ने कहा कि शैक्षणिक गतिविधियों के साथ-साथ विद्यापीठ वैज्ञानिक स्वभाव, वैश्विक दक्षताओं व छात्रों के समग्र विकास के लिए विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से सीखने के व्यापक अवसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है। डीन कॉपोरेट अफेयर प्रो (डॉ.) एसवीएवी प्रसाद ने कहा कि कैंपस में पढ़ाई बेहद गंभीरता के साथ कराई जाती है। छात्रों को विशेषज्ञ हर नवीन जानकारी देते हैं। साथ ही छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए समय-समय पर बाहरी कालेजों से भी विषय विशेषज्ञों को बुलाया जाता है, जिससे पीएचडी करने वाले छात्र-छात्राओं को शोध से जुड़ी हर जानकारी मिल सके। मंच संचालन रिसर्च एंड पीएचडी कोऑर्डिनेटर डॉ. तापसी नागपाल ने किया।

खबरें और भी हैं...