फैक्टरी मालिक की चाकू घोंप कर हत्या:फतेहाबाद में बेटे से मारपीट का उलाहना देने गए थे; अस्पताल के बाहर धरना शुरू

फतेहाबाद3 महीने पहले

हरियाणा के फतेहाबाद शहर के रामनिवास मोहल्ले में सोमवार रात को शिव स्टील फैक्टरी के मालिक योगेश गोस्वामी की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। हमलावरों ने लिफ्ट न देने के विवाद में योगेश के बेटे सिद्धार्थ के साथ झगड़ा किया था। योगेश अपने परिजनों को लेकर झगड़ा करने वालों को समझाने गया तो विवाद बढ़ गया और चाकू घोंप कर हत्या कर दी गई। झगड़े में योगेश के भाई नवीन, पत्नी पूनम व बेटे सिद्धार्थ पर भी चाकू व डंडे चलाए गए। सभी को भी चोटें आई हैं। पुलिस ने हत्या और अन्य धाराओं में केस दर्ज छानबीन शुरू कर दी है।

व्यापारी के मर्डर के विरोध में धरने पर बैठे लोगों से बात करते एसपी सुरेंद्र भौरिया।
व्यापारी के मर्डर के विरोध में धरने पर बैठे लोगों से बात करते एसपी सुरेंद्र भौरिया।

अस्पताल के बाहर धरना, डैड बॉडी नहीं लेंगे

शिव स्टील फैक्टरी के मालिक योगेश (जोगेश) गोस्वामी की चाकू मारकर हत्या मामले में लोगों ने पुलिस कार्रवाई पर भी असंतुष्टि जताते हुए गिरफ्तारी न होने तक दाह संस्कार न करने और शहर बंद करने का अल्टीमेटम दे डाला। बाद में एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया भी नागरिक अस्पताल पहुंचे और परिजनों को सुरक्षा मुहैया करवाने और जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। समाचार लिखे जाने तक नागरिक अस्पताल में लोगों का धरना जारी था और दाह संस्कार न करने पर लोग अड़े हुए थे।

उलाहना देने गए थे

पुलिस को दी शिकायत में रामनिवास मोहल्ला निवासी नवीन गोस्वामी ने बताया कि उसके भाई योगेश गोस्वामी का बेटा सिद्धार्थ बीती रात बाजार से घर की तरफ आ रहा था। गली के मोड़ पर ही गुलशन, उसके भाई अरुण व पिता विनोद ने उसे घेरकर बाइक पर लिफ्ट न देने पर ऐतराज जताया और ईंट से हमला कर दिया। सिद्धार्थ भागकर घर पहुंचा और अपने पिता योगेश को झगड़े के बारे में बताया। गुस्साए योगेश, उसकी पत्नी, सिद्धार्थ व नवीन मोहल्ले में गए और गुलशन आदि को इस बात का उलाहना दिया।

वारदात के बाद रोष व्यक्त करते मोहल्लावासी।
वारदात के बाद रोष व्यक्त करते मोहल्लावासी।

पकड़ कर किया चाकू से वार

नवीन का कहना है कि इसके बाद गुलशन, अरुण, विनोद व उसकी मां ने उन पर लाठियों से हमला कर दिया। आरोपियों ने उन्हें पकड़ लिया, जिसके बाद गुलशन भागकर घर में गया और चाकू नुमा कोई हथियार लाया। उसने नवीन और योगेश को चाकू घोंप दिया। दोनों को तुरंत पड़ोसियों ने नागरिक हॉस्पिटल में पहुंचाया, जहां योगेश की गंभीर हालत के चलते उसे निजी हॉस्पिटल में रेफर किया गया। वहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवाया गया है।

लोगों में वारदात के बाद रोष

वहीं इस घटना के बाद मोहल्ले में काफी रोष और गम का माहौल है। मोहल्ला वासियों का कहना है कि आरोपी नशे के आदी हैं और आए दिन असामाजिक तत्वों का मोहल्ले में आना जाना है। पूरे मोहल्ले में गुस्सा का माहौल है। इस घटना के शोक स्वरूप मोहल्ले में स्थित सनातन धर्म मंदिर के वार्षिक उत्सव को भी रद्द कर दिया गया है। बता दें कि मृतक योगेश के पिता अर्जुन देव गोस्वामी मोहल्ले में ही बनी प्राचीन माता मढ़ी के गद्दी नशीन गुरु हैं और पूरे मोहल्ले में ही नहीं बल्कि शहर में लोग उनको मानते हैं।

अस्पताल में उपचाराधीन मृतक का भाई नवीन।
अस्पताल में उपचाराधीन मृतक का भाई नवीन।

इन पर केस दर्ज

पुलिस ने मृतक के भाई नवीन के बयान पर रामनिवास मोहल्ला निवासी गुलशन उर्फ कन्न, उसके भाई अरूण उर्फ काकू, पिता विनोद कुमार व दादी धन्न के खिलाफ मारपीट, हत्या व जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों में किसी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

लोगों में फुटा गुस्सा, धरना शुरू

फतेहाबाद में शहर के रामनिवास मोहल्ले में सोमवार रात को शिव स्टील फैक्टरी के मालिक योगेश (जोगेश) गोस्वामी की चाकू मारकर हत्या मामले में लोगों ने पुलिस कार्रवाई पर भी असंतुष्टि जताते हुए गिरफ्तारी न होने तक दाह संस्कार न करने और शहर बंद करने का अल्टीमेटम दे डाला। बाद में एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया भी नागरिक अस्पताल पहुंचे और परिजनों को सुरक्षा मुहैया करवाने और जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया।

व्यापारी के मर्डर के विरोध में अस्पताल के बाहर धरने पर बैठे लोग।
व्यापारी के मर्डर के विरोध में अस्पताल के बाहर धरने पर बैठे लोग।

समाचार लिखे जाने तक नागरिक अस्पताल में लोगों का धरना जारी था और दाह संस्कार न करने पर लोग अड़े हुए थे। लोगों का कहना है कि नशे ने युवा पीढ़ी को खा लिया और गुंडई फतेहाबाद में अब बर्दाश्त नहीं। लोगों ने हत्यारों को फांसी दो के बैनर तक टांग लिए। वहीं सोशल मीडिया पर लोग यूपी के बुल्डोजर बाबा को याद करते हुए बड़ी कार्रवाई की मांग करते भी दिखे।

वहीं यह बात भी सामने आई है कि आरोपी गुलशन उर्फ़ कन्नु 2015 दिसंबर में दिल्ली में एक युवती को नशे की ओवरडोज देकर हत्या करने के बाद शव को नाले में गिराने मामले में भी शामिल रहा है। आरोप था कि युवती को दुष्कर्म के प्रयास के दौरान नशा दिया गया था। इस मामले में गुलशन उर्फ कन्नू को सजा भी हुई थी। करीब 3 वर्ष वह जेल काटकर आया है।

पुलिस की SIT का गठन

लोगों के विरोध के बाद मौके पर पहुंचे एसपी सुरेंद्र सिंह भौरिया ने बताया कि इस प्रकार की घटनाएं बर्दाश्त नहीं होंगी और सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा, इसके लिए एसआईटी का गठन कर दिया गया है। पुलिस पूरा प्रयास कर रही है।