विकास दिवस:नेहरू युवा केंद्र ने एमएम कॉलेज में मनाया विकास दिवस, गांवों को निशाना बना रहे है नशा तस्कर, हालात खराब- हरदीप

फतेहाबाद11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • भटके युवाओं को साँझे प्रयास करते हुए वापस ज़िन्दगी की पटरी पर लाना होगा

सामाजिक कार्यकर्ता एवं जिंदगी संस्था अध्यक्ष हरदीप सिंह ने कहा कि देश और समाज का भविष्य कहे जाने वाले युवा वर्ग की ज़िन्दगी को हेरोइन, स्मैक जैसा गंभीर नशा तेज़ी से मौत की तरफ धकेलने लगा है। नशे की दलदल में फंसे युवाओं को निकालने के लिए सबको बेखौफ होकर अपनी ज़िम्मेदारी निभानी होगी। भटके युवाओं को साँझे प्रयास करते हुए वापस ज़िन्दगी की पटरी पर लाना होगा। वे एमएम कॉलेज प्रांगण में नेहरू युवा केंद्र यूनिट द्वारा आयोजित विकास दिवस कार्यक्रम को बतौर मुख्य वक्ता सम्बोधित कर रहे थे। कुशल संचालन उड़ान एजुकेशन सोसाइटी एवं लाइब्रेरी के निदेशक मुकेश बंसल ने किया, जबकि यूनिट प्रभारी अरुण कुनार ने अतिथिगणो का अभिनन्दन किया।

हरदीप सिंह ने चिंता जताते हुए कहा कि युवा हेरोइन के इंजेक्शन अस्पतालो के कचरे से सीरिंज उठा उठा कर खुद ही लगा रहे हैं। नशे की ओवरडोज के कारण उनकी मौत हो रही है। अकेले सिरसा जिले में एक सप्ताह में तीन नशा पीड़ितों की मौत देखने को मिली। हेरोइन तस्करों ने शहर के बाद छोटे छोटे गांवों में पकड़ बना ली है। क्षेत्र में एकाएक बढ़ी चोरी, स्नेचिंग की वरदातें बढ़ते नशा का ही दुष्परिणाम है। उन्होंने युवाओं को आगाह किया यदि समय रहते हमने मिलकर इस नशे पर लगाम नहीं कसी तो उड़ता पंजाब जैसे हालात पूरे हरियाणा में बनते देर नहीं लगेगी। उन्होंने युवाओं को एकजुट होकर नशे के खिलाफ मुहीम का भागीदार बनने की अपील की। इस अवसर पर बलजीत सिंह माज़रा, अनिल चौधरी, गगनदीप कौर, कुलदीप, प्रवीन सोनी, राहुल धानिया, पूनम सुंडा, मंजू, रेणुका, किरण, ज्योति, चंचल, विनोद, योगी सहित अनेक छात्र उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...