मामला दर्ज करने की मांग:भाकियू नेता पर केस दर्ज करने पर संगठनों ने शहर थाने के सामने शुरू किया धरना

रतिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • संगठनों ने पुलिस से केस को खारिज करके दूसरे पक्ष पर मामला दर्ज करने की मांग की

भारतीय किसान यूनियन उगराहा के जिला प्रधान निर्भय सिंह व उसके एक साथी पर पुलिस द्वारा मामला दर्ज करने से गुस्साए विभिन्न संगठनों द्वारा मंगलवार को शहर थाना के आगे अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया। संगठनों के सदस्यों ने पुलिस के साथ-साथ भाजपा व आरएसएस के नेताओं के खिलाफ नारेबाजी की। साथ ही चेतावनी दी कि जब तक केस को खारिज करके दूसरे पक्ष पर केस दर्ज नहीं किया जाएगा, तब तक थाने के आगे धरना जारी रहेगा। इस धरने में किसान नेता राम भूथन, अजय सिधानी, अमित सिधानी, निर्भय रतिया, नवजीत भुंदडवास, कर्म सिंह, लवली आदि मौजूद थे।

किसान नेताओं ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन के जिला प्रधान निर्भय सिंह के खिलाफ पुलिस ने सत्ताधारी पार्टी के नेताओं की शह पर झूठा मुकदमा दर्ज किया है, क्योंकि निर्भय सिंह और एक आरएसएस नेता के बेटे में सोशल मीडिया पर आरोप-प्रत्यारोप चल रहे थे और किसानों के खिलाफ गलत भाषा में लिखने पर किसान नेता उसे समझाने गए थे लेकिन भाजपा नेताओं के दबाव में किसान नेताओं के खिलाफ झूठा मुकदमा दर्ज कर दिया गया। जिला प्रधान निर्भय सिंह ने कहा कि रतिया पुलिस ने उसके और उसके साथी के खिलाफ एक दुकानदार की शिकायत पर उनके खिलाफ जान से मारने की धमकी सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। निर्भय ने बताया कि 2 दिन पूर्व सोशल मीडिया पर उसकी उसके साथियों के साथ प्रदेश में बिजली की कमी को लेकर वार्ता चल रही थी तो राम नामक एक युवक ने उस वार्ता में तीखी टिप्पणी कर दी, जिसे लेकर ही वह उसको समझाने अपने साथी के साथ उसकी दुकान पर गया था लेकिन वहां उक्त युवक ने उनसे ही झगड़ा कर लिया। इस अवसर पर बीकेयू खेती बचाओ, बीकेयू एकता उगराहां, इंकलाबी नौजवान सभा, मजदूर मुक्ति मोर्चा, हरियाणा स्टूडेंट यूनियन आदि संगठनों के सदस्य अमन रतिया, गुरलाल सिंह, हैप्पी ग्रोहा, कुलविंद्र सिंह, काका सिंह, हैप्पी पंडित, नवजीत सिंह, हैप्पी सिंह व सुखप्रीत मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...