पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

सुविधा:दिल्ली एम्स के बाद अब मेडिकल कॉलेज अग्रोहा में ट्राई जेमिनल न्यूरोलॉजी बीमारी का निशुल्क स्थाई इलाज शुरू

अग्रोहा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इस बीमारी के उपचार के लिए मेडिकल सोसायटी ने 50 लाख रुपए का माइक्रोस्कोप खरीदा

काेरोना काल में भी महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज अग्रोहा के चिकित्सकों का दल काेरोना के साथ अनेक बीमारियों का उपचार करने में लगा है। खासकर न्यूरो विभाग के चिकित्सकों की टीम ने न्यूरो सर्जरी के ऑपरेशन करने में सफलता हासिल की है। न्यूरो विभाग के डॉक्टर ईशु बिश्नोई ने चिकित्सा के क्षेत्र में एक नई शुरुआत की है।

डॉ ईशु विश्नोई ने इस काेरोना काल में ट्राइजेमिनल न्यूरोलॉजिया का निशुल्क एवं स्थाई ऑपरेशन करने में उपलब्धि प्राप्त कर ली है। मेडिकल में ट्राइजेमिनल न्यूरोलाजिया का उपचार सफल हो गया है। जिससे मेडिकल के निदेशक ने डॉ गोपाल सिंघल ने डॉ ईशु विश्नोई को बधाई दी। न्यूरो के डॉ ईशु विश्नोई ने बताया कि ट्राइजेमिनल न्यूरोलॉजिया नर्व डिस्अार्डर यानी नसों से जुड़ी बीमारी है। इस बीमारी में चेहरे के किसी खास हिस्से में चाकू मारने या बिजली का करंट लगने जैसा तेज दर्द महसूस होता है।

यह दर्द ट्राइजेमिनल नाम की नस में होने वाले दर्द की वजह से होता है। यही वह नस है जो चेहरा, आंख, साइनस और मुंह में होने वाली किसी भी तरह की फीलिंग, टच और दर्द के अहसास को ब्रेन तक कैरी करती है। इस तेज दर्द वाली बीमारी का उपचार हरियाणा में केवल पीजीआई चंडीगढ़ में, दिल्ली में एम्स हॉस्पिटल में उपलब्ध है।

मेडिकल के चिकित्सकों ने अपने प्रयास से ट्राईजैमिनल बीमारी का उपचार निशुल्क स्थाई शुरू हो गया। डॉक्टर ईशु बिश्नोई ने बताया कि इस बीमारी के उपचार के लिए मेडिकल सोसायटी ने 50 लाख रुपए का माइक्रोस्कोप खरीदा है। अब न्यूरो सर्जरी के लगभग सभी प्रकार के ऑपरेशन यहां पर किए जा सकते हैं। डॉक्टर विश्नोई ने इस ऑपरेशन की ट्रेनिंग जापान तथा पंत के वशिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉ दलजीत सिंह से ली है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें