कृषि कानूनों का विरोध:किसान नेता बोले-भाजपा व जजपा की गलत नीतियों से प्रदेश का किसान सड़कों पर उतरने को मजबूर है

अग्रोहा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लांधड़ी टोल पर धरने को संबोधित करते किसान नेता। - Dainik Bhaskar
लांधड़ी टोल पर धरने को संबोधित करते किसान नेता।
  • किसानों का धरना 125वें दिन भी जारी रहा, नारेबाजी कर जताई नाराजगी

लांधड़ी टोल पर कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का धरना 125वें दिन भी जारी रहा। धरने का नेतृत्व स्वतंत्रता सेनानी परिवार से अवतार सिंह बग्गा ढंढूर, हरजिंदर सिंह, कुलबीर सिंह सैनी, बिट्टू, विजय पूनिया ने किया। जागो किसान जनसंपर्क अभियान के तीसरे दिन फतेहाबाद जिले के एक दर्जन गांवों में जनसभा काे संबोधित कर किसान आंदोलन में बढ़चढ़कर भाग लेने के लिए आवाहन किया। किसान नेताओं ने बताया कि गांव में चलाए जन जागरण अभियान का से टोल पर किसानों की हाजिरी लगातार बढ़ रही है।

धरने को संबोधित करते हुए अवतार सिंह बग्गा ने कहा कि भाजपा व जजपा की गलत नीतियों के कारण प्रदेश का किसान मजदूर सड़कों पर उतरने को मजबूर है। इस मौके पर महावीर पूनिया,संदीप सिवाच ढंढूर, अजय जौहर, अंगद जोहर, सुरेश दुर्जनपुरिया, संदीप जांगड़ा मीरपुर, राजेश किरमारा, सुरेन्द्र गोदारा अग्रोहा, विनोद माल चिकनवास, राजबीर सिवाच गोरखपुर, समुंदर मलिक, डमन मलिक, लक्ष्य लोहचब, लक्ष्य जोहर लांधङी आिद मौजूद थे।

बाडो पट्टी टोल : संदलाना के ग्रामीणों ने लगाया लंगऱ

सुलखनी, संयुक्त किसान-मजदूर मोर्चा बाडोपट्टी टोल पर बुधवार को गांव संदलाना के ग्रामीणों ने लंगर लगाया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व सरपंच प्रताप सिंह संदलाना ने की और संचालन किसान नेता रामचंद्र संदलाना ने किया। कल छान गांव के किसानों की टोल पर रहेगी पूरे दिन ड्यूटी। किसान नेताओं ने कहा कि ये आन्दोलन हमारे भविष्य की जंग है। ये लड़ाई केवल हमारी नहीं हमारी आने वाली नस्लों की है। अगर आज हम नहीं उठे तो आने वाली नस्लें हमें कोसेंगी। इस दौरान संदलाना से धर्मवीर, रमेश, दविंद्र सिंह, चंद्र, सुनील, विकास, सतीश, सज्जन, जयसिंह, बलराज, अशोक, दलबीर, प्रकाश, प्रदीप, राहुल, विजय संदलाना, महावीर, ईश्वर वर्मा बाडोपट्टी, रामफल बालक, बेदसिंह सरसौद, सुधन जेवरा, रामकुमार बिच्छपड़ी, राजू भगत सरसौद, रीमन नैन खेदड़, सतबीर बलोदा, धोला जेवरा मौजूद थे।

किसानाें ने कहा, मरीजाें काे ऑक्सीजन व बेड उपलब्ध करवाए सरकार

बालसमंद , सरकार मरीजाें काे ऑक्सीजन और बेड उपलब्ध करवाए और मनाेहर लाल जाे बयान दे रहे हैं, वह एक मुख्यमंत्री की भाषा नहीं हाे सकती। यह बात संयुक्त किसान माेर्चा के नेताअाें ने अाज चाैधरीवास टाेल पर कही। बैठक की अध्यक्षता मंगतूराम बेनीवाल और शमशेर पंघाल ने की।

मंच संचालन फूल कुमार दहिया और आत्म पिलानिया ने किया। इस अवसर पर भूप सिहाग, राेहित डाेभी, मांगेराम जाखड़, अनिल बेनीवाल आदि भी उपस्थित रहे। डाॅ. परमानंद पिलानिया ने कहा कि मुख्यमंत्री के बयान से लगता है कि प्रदेश में फैली बीमारी के दाैरान जाे जनहानि हाे रही है, वह सीएम की नजर में कुछ नहीं है। सरकार काे तानशाही रवैया छाेड़कर किसान और मजदूराें के साथ खड़ा हाेना चाहिए। इस अवसर पर संतु पिलानिया, सेठी सिहाग, संदीप झाझड़िया, शीशराम नंबरदार, राेशन लाल, श्रवण तरड़, संदीप व महेंद्र पिलानिया अादि माैजूद रहे।

खबरें और भी हैं...