सिविल अस्पताल में वारदात:रात को वार्ड से 5 फोन चोरी, सुबह जेब काटकर भागा तो पकड़ा गया; लाेगाें ने घंटाघर के पास पकड़ा चोर

भिवानी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

सिविल अस्पताल स्थित वार्ड नंबर 4 में भर्ती मरीजों के रात काे चाेर पांच मोबाइल चाेरी कर ले गए। इसके अलावा बुधवार सुबह ओपीडी में एक अन्य चाेर ने एक मरीज का मोबाइल चाेरी किया लेकिन कुछ लोगाें ने उसके पीछे दौड़कर उसे घंटाघर चाैक के पास पकड़ लिया।

बीती रात सिविल अस्पताल में वार्ड नंबर नंबर चार में भर्ती मरीजों व उनके अभिभावकों के चाेर पांच मोबाइल चाेरी कर ले गए। बुधवार सुबह 9 बजे मामले की शिकायत पुलिस काे दी। पुलिस ने मामले की जांच की लेकिन चाेराें का काेई सुराग नहीं मिला लेकिन सुबह लगभग 11 बजे ओपीडी में चाेर ने चिकित्सक रूम के बाहर खड़े एक व्यक्ति के कुर्ते की जेब से पर्स चाेरी का प्रयास किया। जेब में चाेर काे पर्स की बजाए मोबाइल मिला और उसने मोबाइल निकालकर लिया।

जब व्यक्ति ने अपनी जेब काे हाथ लगाया ताे उसे मोबाइल नहीं मिला और उसने शाेर मचाया कि उसका मोबाइल चाेरी हाे गया है। तभी भीड़ से लगभग 50 वर्षीय व्यक्ति दाैड़ते हुए ओपीडी के बाहर भाग गया। व्यक्ति व अन्य लाेगाें ने समझा यहीं चाेर और उसे पकड़ने के लिए पीछे दाैड़ पड़े। लाेगाें ने चाेर काे अस्पताल से बाहर घंटाघर चाैक के पास पकड़ लिया।

चाेर के पास व्यक्ति का मोबाइल बरामद हुआ। उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। आराेपी नशे में था और वह नशे का आदि है। नशे की लत पूरी करने के लिए ही वह अस्पताल में चाेरी करता है। आराेपी पहचान बलदेव के रूप में हुई। पुलिस आराेपी से पूछताछ कर रही है। गांव बापाेड़ा निवासी कुलदीप ने बताया कि उनके परिजन अस्पताल के वार्ड नंबर चार में भर्ती है। रात काे चाेर उनके परिवार के सदस्यों समेत वार्ड से पांच लाेगाें के मोबाइल फाेन चाेरी कर ले गए। इस संबंध में मामले की शिकायत पुलिस काे दी है।

खबरें और भी हैं...