वेदर अलर्ट:ईरान के रास्ते आगे बढ़ा एक और पश्चिमी विक्षोभ, अधिकतम पारे में 3.40 की गिरावट; 19 जनवरी को बूंदाबांदी के आसार

भिवानी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरकुलर राेड पर शनिवार सुबह आसमान में छाए बादल व हल्की धुंध। - Dainik Bhaskar
सरकुलर राेड पर शनिवार सुबह आसमान में छाए बादल व हल्की धुंध।

अब एक बार फिर से नया पश्चिमी विक्षोभ आ रहा है। ईरान में नया विक्षोभ उठकर तेजी से उत्तर भारत की ओर आगे बढ़ रहा है। इसका असर 18 जनवरी की रात से आने लगेगा। इसके बाद हवा की गति यदि अनुकूल रही तो 19 जनवरी को बूंदाबांदी की संभावना बन रही है।

शनिवार सुबह से शाम तक शहर सहित आसपास का क्षेत्र हल्के काेहरे व शीतलहर की आगोश में रहा। पिछले दिनाें हुई बारिश के थमने के बाद धीरे-धीरे कर शीतलहर के साथ कड़ाके की ठंड ने पैर पसारना शुरू कर दिया जाे अब भी जारी है। आगामी कुछ दिनाें तक आसमान साफ नहीं की संभावना नहीं है। दूसरी तरफ पहाड़ाें में पश्चिमी विक्षोभ के बाद से ही बर्फबारी शुरू हाे गई है।

मैदानी इलाकाें में सुबह-शाम धुंध के साथ-साथ शीतलहर भी सताएगी। अधिकतम तापमान के लुढ़कने से दिन भर आमजन ठिठुरते नजर अाए। मौसम लगातार परिवर्तनशील हो रहा है, कभी दिन में बादल छा जाते हैं तो कभी हल्की धूप निकल रही है। शीतलहर चलने से लोग जगह-जगह ठंड से बचाव के लिए अलाव भी तापते नजर आए। दिन में सूरज के आगे बादलाें के छाए रहने से धूप की तपिश से लाेग दिनभर वंचित ही रहे।

वहीं 7 किलोमीटर की रफ्तार से चली हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से भी कम 8.9 डिग्री दर्ज किया गया। इसके अलावा अधिकतम तापमान 3.4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 11.4 डिग्री दर्ज किया गया जबकि शुक्रवार काे अधिकतम तापमान 14.8 डिग्री दर्ज किया गया था। इधर, कृषि विशेषज्ञों के अनुसार इस मौसम से फसलों को अभी कोई नुकसान नहीं है। गेहूं व सरसों के लिए भी फायदेमंद है। ठंड से गेहूं में फुटाव बेहतर रहेगा।

173 प्वाइंट पहुंचा एक्यूआई
जनवरी माह में बदलते माैसम के साथ-साथ शहर का एक्यूआई भी लगातार परिवर्तनशील है। जनवरी माह की शुरूआत पर एक्यूअाई जहांं रेड जाेन में था। इसके बाद यह ओरेंज, येलाे, ग्रीन और अब एक बार फिर से बीते दाे दिन से येलाे जाेन में आ रहा है। नेशनल एयर क्वालिटी इंडेक्स सेंट्रल पाॅल्यूशन कंट्राेल बाेर्ड से प्राप्त डाटा के अनुसार शनिवार काे दिनभर बादलवाई के बीच दाेपहर बाद भिवानी का एक्यूआई येलाे जाेन में 173 प्वाइंट दर्ज किया गया। इससे पहले 14 जनवरी काे यह 185 प्वाइंट था। हालांकि जनवरी माह की शुरूआत पर यह रेड जाेन में 316 प्वाइंट रिकार्ड किया गया था।

अभी कुछ दिन और रह सकता है कोहरा
मौसम विशेषज्ञों के अनुसार 18 जनवरी तक माैसम ड्राई रह सकता है। चौ. चरणसिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार के मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार क्षेत्र में अभी कुछ दिन सुबह के समय कोहरे का असर और रह सकता है। शीतलहर के प्रभाव से अधिकतम और न्यूनतम पारे में उतार-चढ़ाव रहेगा।

खबरें और भी हैं...