न अपनी फिक्र, न दूसरों की चिंता:महापंचायत में मंच बिना मास्क जुटे किसान नेता, टिकैत-चढू़नी व आयोजक पर केस

भिवानी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिवानी| महापंचायत में किसान नेता टिकैत-गुरनाम चढ़ूनी समेत कई नेता जुटे। मंच पर सामने नजर आ रहे 15 लोगों में से किसी ने भी मास्क तक नहीं पहना था। अपने साथ दूसरों की जिंदगी भी खतरे में डाली। पुलिस ने टिकैत, चढ़ूनी व आयोजकों पर कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। - Dainik Bhaskar
भिवानी| महापंचायत में किसान नेता टिकैत-गुरनाम चढ़ूनी समेत कई नेता जुटे। मंच पर सामने नजर आ रहे 15 लोगों में से किसी ने भी मास्क तक नहीं पहना था। अपने साथ दूसरों की जिंदगी भी खतरे में डाली। पुलिस ने टिकैत, चढ़ूनी व आयोजकों पर कई धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।
  • अगर अस्पतालों में बेड नहीं मिलते तो एमएलए-सांसदों के घर में अपना डेरा डाल लें: चढ़ूनी

गांव प्रेमनगर में किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि सरकार हर मोर्चे पर बुरी तरह फेल है। सरकार कोरोना संक्रमितों के उपचार की व्यवस्था नहीं कर पाई है। अस्पतालों में बेड नहीं हैं। ऑक्सीजन की कमी से लोग मर रहे हैं। उन्होंने लोगों से कहा कि अगर उन्हें अस्पताल में बेड नहीं मिलते तो वे अपना ठिकाना विधायकों व सांसदों के आवास पर बना लें।

चढ़ूनी गुरुवार को प्रेमनगर महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। वहीं, राकेश टिकैत ने कहा कि गुजरात के लोग दुखी हैं, क्योंकि वहां किसानों की खेती की जमीन अधिग्रहण कर कंपनियों को खेती-बाड़ी करने के लिए दी जा रही है। अगर किसानों की हार हुई तो गुजरात का ये मॉडल पूरे देश में लागू कर दिया जाएगा। कोरोना व धारा 144 के संबंध में कहा कि भाजपा सरकारी पंचायत बंद कर दे किसान भी किसान महापंचायत नहीं करेंगे।

खबरें और भी हैं...