पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021:शहर में लगे कचरे के ढेर, लोगों से सिटिजन फीडबैक लेकर स्वच्छता रैंकिंग सुधारना चाह रही नगर परिषद

भिवानी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फिलहाल सिटीजन फीडबैक में शहर 11वें स्थान पर, अभी 267 लोगों ने ही दी है प्रतिक्रिया

शहर में जगह जगह कूड़े के ढेर लगे हुए हैं और नगरपरिषद के सक्षम कर्मी सोमवार से सिटीजन फीडबैक लेने उतरेंगे। इस दौरान लोगों के मोबाइल में स्वच्छता एप डाउनलोड करवाकर उनसे ऑनलाइन फीडबैक दिलवाया जाएगा ताकि स्वच्छता सर्वेक्षण में शहर को पहले से बेहतर स्थान मिल सके। नागरिकों से 31 मार्च से सिटीजन फीडबैक मांगें गए हैं और फिलहाल शहर सिटीजन फीडबैक देने में 11वें स्थान पर चल रहा है।

नगरपरिषद वर्षों बाद भी शहर में बने कचरा प्वाइंटों को खत्म नहीं कर पाई है। इससे शहरवासियों को हर रोज गंदगी का सामना करना पड़ रहा हैं। ऐसे में लोगों ने नप अधिकारियों को नसीहत दी है कि वह सिटीजन फीडबैक लेने की बजाय पहले शहर के कचरा प्वाइंट को खत्म करे। स्वच्छता सर्वे के तहत एक जनवरी से 31 मार्च तक सफाई व्यवस्था को लेकर लोगों से ऑनलाइन फीडबैक ली जा रही है लेकिन शहरवासी फीडबैक देने में ज्यादा रूचि नहीं दिखा रहे।

अभी तक केवल 267 लोगों ने ही शहर में सफाई काे लेकर फीडबैक दिया है। इसके चलते नप ने सक्षम युवाओं के माध्यम से शहर में सिटीजन फीडबैक अभियान चलाने का फैसला लिया है। पिछले साल शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में नेशनल लेवल पर 166वां व प्रदेश स्तर पर 11वां स्थान मिला था। लगभग 15 स्थानों पर कचरा प्वाइंट है जहां से नप व ठेकेदार के कर्मचारी कूड़े को ट्रैक्टर ट्रॉलियों में डालकर दादरी रोड स्थित ठोस कूड़ा कचरा स्थल पर पहुंचाते हैं। इन कचरा प्वाइंटों से कूड़ा उठाने के बाद ही गंदगी व बदबू का आलम बना रहता है। शहर में मुख्य मार्गों व चौराहों के साथ अधिकतर कूड़ा प्वाइंट बने है और उनके आसपास दुकानें है। नगरपरिषद ने इन कचरा प्वाइंट को कभी खत्म करने का प्रयास तक नहीं किया।

शहर में कहां-कहां हैं कचरा प्वाइंट और गंदगी का आलम

  • शहर के पुराना बसस्टैंड क्षेत्र में दस साल से कचरा प्वाइंट बना हुआ है। यहां आवारा पशु दिनभर कचरे में मुंह मारते हुए दिखाई देते हैं। यहां आलम यह है कि आसपास के दुकानदार दुकानों के अंदर भी नहीं बैठ सकते। बारिश के समय तो सरकुलर रोड से नया बाजार तक जाने वाले मार्ग से निकलना भी मुश्किल हो जाता है।
  • नेहरू पार्क के पास सरकुलर रोड से सेठ किरोड़ीमल राजकीय स्कूल की तरफ जाने वाले मार्ग पर कचरा प्वाइंट बना है और पांच फुट की दूरी पर ही पार्क में प्रवेश का रास्ता है। हर समय यहां गंदगी जमा रहती है।
  • घंटाघर के नजदीक दो कचरा प्वाइंट बने हुए हैं। चौक के दोनों तरफ सरकुलर रोड पर कचरा जमा किया जाता है और फिर यहां उठान होता है।
  • सिविल अस्पताल के सामने कचरा प्वाइंट है। कचरे के साथ सब्जी व फल विक्रेता स्टॉल लगाते हैं। हजारों लोगों का यहां से आना जाना है।
  • वैश्य सीनियर सैकंडरी स्कूल के पास वर्षों से कचरा प्वाइंट बना है। यहां से भी प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग गुजरते हैं।
  • बागड़ी मार्केट में कचरा प्वाइंट सड़क पर ही बना हुआ है। यहां अनेक दुकानें है और कचरे के कारण अकसर वाहनों के जाम की स्थिति बनी रहती है।
  • कमला भवन के नजदीक पंचायत भवन की चारदीवारी के साथ कचरा प्वाइंट बना हुआ है।
  • सरकुलर रोड से पतराम गेट की तरफ जाने वाले मोड़ पर कचरा प्वाइंट है।
  • देवसर चुंगी स्थित वाटर डिस्पोजल के पास।
  • हनुमान गेट के नजदीक, न्यू हाउसिंग बोर्ड के नजदीक।
  • सरकुलर रोड स्थित दादरी गेट स्थित कृष्ण प्रणामी मंदिर के नजदीक।
  • रोहतक गेट स्थित एक मार्बल हाउस के नजदीक।
  • फैंसी चौक के पास।
  • सोमवारी माता मंदिर के नजदीक।
  • नया बाजार स्थित एक इलेक्ट्रॉनिक शॉप के नजदीक।
  • सराय चौपटा के नजदीक।

20 हजार फीडबैक है लक्ष्य

सक्षम युवक डोर-टू-डोर जाकर लोगों के मोबाइल पर स्वच्छता एप डाउनलोड करवाएंगे और फिर ऑन सिटीजन फीडबैक दर्ज करवाएंगे। फिलहाल सिटीजन फीडबैक में शहर 11 वें स्थान पर चल रहा है। अभी तक केवल 267 लोगों ने ही फीडबैक दिया है। नप का लक्ष्य 31 मार्च तक कम से कम 20 हजार लोगों की तरफ ऑनलाइन फीडबैक दर्ज करवाने का है।'' -संजय कुमार, सफाई निरीक्षक।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ऊर्जा तथा आत्मविश्वास से भरपूर दिन व्यतीत होगा। आप किसी मुश्किल काम को अपने परिश्रम द्वारा हल करने में सक्षम रहेंगे। अगर गाड़ी वगैरह खरीदने का विचार है, तो इस कार्य के लिए प्रबल योग बने हुए...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser