धरनारत किसानों ने दी चेतावनी:निमड़ीवाली में अर्धनग्न हो 24 घंटे के अनशन पर बैठे धर्मपाल दहिया

भिवानी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भिवानी. निमड़ीवाली धरने पर 24 घंटे के लिए अर्धनग्न होकर अनशन पर बैठे किसान धर्मपाल दहिया व माैजूद अन्य। - Dainik Bhaskar
भिवानी. निमड़ीवाली धरने पर 24 घंटे के लिए अर्धनग्न होकर अनशन पर बैठे किसान धर्मपाल दहिया व माैजूद अन्य।

हरियाणा पावर ग्रिड, बिजली वितरण निगम, बिजली विभाग व जिला प्रशासन द्वारा किसानों को बिना उचित मुआवजा दिए उनके खेतों में बिजली के टावर खड़े करने व बिजली की लाइन बिछाने के विरोध में गांव निमड़ीवाली व आसपास के गांवों के किसानाें द्वारा निमड़ीवाली में चल रहे धरने को पांच माह पूरे हो चुके हैं। इस दौरान चंडीगढ़ बिजली विभाग मुख्यालय, जिला बिजली विभाग मुख्यालय, विधायक घनश्याम सर्राफ, सांसद धर्मबीर सिंह व हरियाणा सरकार को अनेकों बार पत्र भी लिखा जा चुका है लेकिन अभी तक उनकी मांगों की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया गया। भाकियू चढूनी के जिलाध्यक्ष राकेश आर्य निमड़ीवाली ने बताया कि किसानों को प्रति टावर 30 लाख रुपये व बिजली की लाइन बिछाने के लिए 25 लाख रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजे की मांग को लेकर किसानों ने 17 जून को अनिश्चितकालीन अनशन धरना शुरू किया था। इस दौरान विधायक सर्राफ के आश्वासन दिए जाने पर हर रोज पांच किसान अनशन पर बैठने का निर्णय लिया। इसके बावजूद भी उनकी मांगों की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा। उन्होंने बताया कि इन मांगों को लेकर किसान धर्मपाल सिंह दहिया ने 24 घंटे के लिए अर्धनग्न होकर अनशन पर बैठने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि उपस्थित सभी किसानों ने निर्णय लिया है कि अगर उनकी मांगों को शीघ्र पूरा नहीं किया गया तो वे सह परिवार अनशन पर बैठेंगे और इस दौरान कोई जनहानि होती है तो इसकी जिम्मेवारी बिजली विभाग, जिला प्रशासन व हरियाणा सरकार की होगी। उन्होंने बताया कि धरने की अध्यक्षता राजेन्द्र सिंह डोहकी, कुलबीर बोहरा, जोरा सिंह प्रजापत व समुन्द्र सिंहमार ने की। इस अवसर पर सोमबीर, सचिन, प्रमोद, सुमेर शर्मा, नवीन जालवाल आदि उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...