पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धरना:सरकार शारीरिक शिक्षकों को शिक्षा विभाग में ही करे समायोजित: सतीश

भिवानी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लघु सचिवालय के बाहर चल रहे हरियाणा शारीरिक शिक्षकों के धरने को लम्बा समय बीत चुका है, लेकिन आज तक सरकार की तरफ से कोई भी सकारात्मक जवाब नहीं आया है। इसके चलते सभी शारीरिक शिक्षकों में सरकार के खिलाफ रोष व्याप्त है। यह बात धरने की अध्यक्षता करते हुए पीटीआई अध्यापक सतीश कुमार प्रह्लादगढ़ ने कही।

उन्होंने बताया कि सरकार को चाहिए कि बर्खास्त पीटीआई को शिक्षा विभाग में ही समायोजित किया जाए, अगर हरियाणा सरकार बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को शिक्षा विभाग में समायोजित नहीं करती है तो राज्य कार्यकारिणी से विचार-विमर्श करके एक बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा। राकेश मलिक सर्व कर्मचारी संघ, सुभाष कौशिक शिक्षा बोर्ड प्रधान, रामकुमार ढिल्लो रिटायर्ड कर्मचारी प्रधान, राजेश ढांडा पूर्व राज्य प्रधान, जरनैल सिंह, विनोद पिंकू ने कहा कि हरियाणा सरकार 16 अक्टूबर को मंत्रिमंडल की

बैठक में बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों को शिक्षा विभाग में पीटीआई के पद पर ही समायोजित करने का फैसला लें, जिन पीटीआई अध्यापकों ने हरियाणा के युवाओं का भविष्य खेलों में बनाया अब उनके ही बच्चों को रोजी-रोटी के लाले पड़ रहे हैं। अपने परिवार के लालन-पालन के लिए बर्खास्त पीटीआई अध्यापक हरियाणा सरकार के सभी मंत्रियों विधायकों सांसदों से मिलकर अपने परिवार के लालन-पालन की गुहार लगा चुके हैं।

हरियाणा सरकार बर्खास्त पीटीआई अध्यापकों की 10 वर्ष शिक्षा विभाग में सेवा को देखते हुए पुन: शिक्षा विभाग में ही समायोजित करने का फैसला लें। क्रमिक अनशन पर सतीश राणा, सुरेंद्र, मीनू, भवानी, उदयभान आदि कर्मचारी बैठे। इस अवसर पर वीरेंद्र घनघस, राजपाल तंवर, बलवान डीपीई, सोमदत्त शर्मा, मनोहर लाल सैनी, अशोक कादयान, प्रमोद यादव, विकास सिवाना, बिजेंद्र चौहान, राजपाल यादव आदि कर्मचारी उपस्थित थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें